आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 03 Oct 2017 17:49:39

जब स्वभाव को धर्म के सिद्धांतों के अनुसार बदला जाता है, तो हमें संस्कृति और सभ्यता प्राप्त होते हैं-पंडित दीनदयाल उपाध्याय