समाज में फैली कुरूतियों को मिटाने हेतु प्रत्येक व्यक्ति को राम,कृष्ण और हेडगेवार बनना होगा:-तरुण सागर जी

दिंनाक: 06 Oct 2017 00:09:52

विसंके जयपुर। सत्ता के खिलाफ सच बोलने का साहस हममे होगा तो दुनिया की कोई भी ताकत हमें नहीं रोक सकती, समाज में फैली कुरूतियों तथा समाज को एकरूप करने हेतु प्रत्येक व्यक्ति को राम कृष्ण और हेडगेवार बनने की आवश्यकता है, यह कहना था जैन मुनि तथा राष्ट्रसंत तरुण सागर जी का।

शनिवार को सीकर के जैन भवन  में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विजयदशमी उत्सव पर स्वयंसेवको आर्शीवचन देते हुए जैन मुनि ने कहा कि आज के दिन हमें रावण का पुतला जलाने के साथ साथ दुष्ट तथा दुराचारी बाबाओं का पुतला जलाना चाहिये जो साधु संतों को बदनाम करने में लगे है।

कार्यक्रम के मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, जयपुर प्रान्त प्रचारक निम्बाराम जी ने बताया कि संघ तथा समाज एक है, संघ समाज से परे नहीं है संघ का एकमात्र लक्ष्य शाखा लगाना है, पर स्वयंसेवक समाज के बीच रहकर संगठन करते हुए कुछ नहीं छोड़ता है उन्होंने बताया कि आज देश में चीन तथा चीनी समाज को बहिष्कार कर भारत को मजबूत सुद्रढ़ बनाने की आवश्यकता है। तत्तकालीन सरकार ने हिंदी चीनी भाई भाई का नारा देकर देश को कमजोर किया है। आज आवश्यकता है त्यौहारो तथा अन्य अवसरों पर चीनी सामान के बहिष्कार की।

कार्यक्रम में 672 स्वयंसेवको ने पथ संचलन में भाग लिया तथा लगभग 1000 स्वयंसेवक कार्यक्रम में रहे। पथ संचलन जैन भवन सीकर से शुरू होकर तापड़िया बगीची, बजाज रोड होते हुए स्टेशन रोड, जाट बाजार से घंटाघर, चांदपोल, सालासर स्टैंड, सुभाष चौक, बावड़ी गेट पुरानी कोतवाली से जैन भवन पर सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम से पूर्व शस्त्र पूजन हुआ।

कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सीकर जिले की मा. जिला संघचालक श्रीमान राजकुमार जी खिरेवाल, नगर संघचालक मा. नागरमल जी गोयल, विभाग कार्यवाह रमाकांत जी दुबे जिला कार्यवाह नरेंद्र जी, अखिल भारतीय साहित्य परिषद के क्षेत्रीय संघठन मंत्री विपिन चंद्रा जी, सीकर विभाग प्रचारक विशाल जी, सह विभागप्रचारक सतीश जी तथा अनेक हज़ारो स्वयंसेवक रहे।