आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 22 Jun 2017 11:43:55

अपने हित से पहले देश और समाज के हित को देखना विवेक युक्त सच्चे नागरिक का कर्त्तव्य होता है - ईश्वरचंद्र विद्यासागर