आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 05 Jul 2017 23:50:52

 भय और अधूरी इच्छाएं ही समस्त दुःखो का मूल है-स्वामी विवेकानंद