रादुविवि बना प्रदेश का पहला कैशलेस विश्वविद्यालय

दिंनाक: 01 Aug 2017 20:00:40

जबलपुर (रादुविवि) 24 जुलाई । केंद्र एवं राज्य सरकार के कैशलेस के आह्वान पर कार्य करते हुए रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय ने संपूर्ण कैशलेस सिस्टम को लागू कर दिया है। इसके साथ ही रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय प्रदेश का एकमात्र सबसे पहला कैशलेस विश्वविद्यालय बन गया, जिसमें सभी प्रकार की फीस, बिलों का भुगतान और अन्य सभी तरह के कार्य कैशलेस प्रणाली से होंगे। विश्वविद्यालय ऑनलाइन फीस सुविधा के बाद देश के उन चुनिंदा विश्वविद्यालयों में शामिल हो गया है, जहां पर सभी तरह वित्तीय गतिविधियां ऑनलाइन हो जाएंगी।

विद्यार्थियों को सुविधा के लिए पी.ओ.एस. मशीन

रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय ने विद्यार्थियों की शुल्क भुगतान को लेकर होने वाली समस्याओं के निराकरण के लिए कैशलेस व्यवस्था शुरू कर दी गई है। इसके तहत कैशलेस लेन-देन की ओर कदम बढ़ाते हुए लेखा विभाग में पीओएस (प्वाइंट ऑफ सेल) मशीनें स्थापित की हैं। पी.ओ.एस. मशीन के माध्यम से विद्यार्थी माइग्रेशन, ट्रांस्क्रिप्ट, प्रोविजनल डिग्री एवं अन्य शुल्क ऑनलाइन जमा कर सकते हैं। आज बड़ी संख्या में छात्रों ने इसका लाभ उठाया।

कुलपति प्रो. कपिल देव मिश्र ने बताया कि सरकार के कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के अहवान तथा विद्यार्थियों की सुविधा के मद्देनजर विश्वविद्यालय में ऑनलाइन भुगतान के लिए पीओएस मशीनें लगाई गई हैं। हमारे लिए विद्यार्थी सर्वोपरि है इसलिए विद्यार्थियों की सुविधा सुनिश्चित करना हमारा कर्तव्य हैं। इसके लिए विश्वविद्यालय के कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है।