आज की abhivyakti

दिंनाक: 22 Aug 2017 13:58:40

वेदान्त  कोई  पाप  नहीं  जानता , वो  केवल  त्रुटी  जानता  है।  और वेदान्त कहता है  कि  सबसे  बड़ी  त्रुटी  यह कहना  है  कि तुम कमजोर  हो , तुम  पापी  हो , एक  तुच्छ  प्राणी हो , और  तुम्हारे पास  कोई  शक्ति  नहीं  है  और  तुम  ये  वो  नहीं  कर  सकते-स्वामी विवेकानंद