आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 26 Aug 2017 15:24:56

पहले हर अच्छी बात का मज़ाक बनता है, फिर उसका विरोध होता है, और फिर उसे स्वीकार कर लिया जाता है - स्वामी विवेकानंद