आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 05 Aug 2017 14:06:08

हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का ध्यान रखिये कि आप क्या सोचते हैं।  शब्द गौण हैं. विचार रहते हैं, वे दूर तक यात्रा करते हैं-स्वामी विवेकानंद