दीनदयाल जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक आदर्श स्वयंसेवक थे-सुरेन्द्र सिंह

दिंनाक: 26 Sep 2017 19:18:50

मेरठ। विश्व संवाद केन्द्र एवं आईआईएमटी विश्वविद्यालय मेरठ के पत्रकारिता विभाग ने ‘‘दीनदयाल जयन्ती’’ के अवसर पर उन्हें एक आदर्श पत्रकार, लेखक राजनीतिज्ञ, समाज सेवी, आजीवन भारत माँ को समर्पित राष्ट्रभक्त के रूप में याद किया।

इस अवसर पर मुख्य वक्ता प्रान्त सह-प्रचार प्रमुख सुरेन्द्र सिंह ने बोलते हुए कहा कि दीनदयाल जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक आदर्श स्वयंसेवक थे। इसलिये संघ ने जब भी उन्हें जो कार्य सौंपा उसे समर्पित एवं सम्पूर्ण सामथ्र्य से किया और उस क्षेत्र में आदर्श स्थापित किया। वे आदर्श प्रचारक रहे। पत्रकारिता के क्षेत्र में लखनऊ में राष्ट्रधर्म प्रकाशन की स्थापना की। मासिक राष्ट्रधर्म, साप्ताहिक पांचजन्य, आर्गेनाइजर एवं दैनिक स्वदेश तथा तरुण भारत का प्रकाशन प्रारम्भ किया। वे स्वयं लेखन सम्पादन से लेकर छापने तक के सारे काम सम्भालते थे। उन्होंने ऐतिहासिक, राजनैतिक, सामाजिक, आर्थिक आदि अनेक विषयों पर मौलिक लेखन किया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विश्व संवाद केन्द्र न्यास के अध्यक्ष आनन्दप्रकाश अग्रवाल ने कहा कि दीनदयाल जी एक आदर्श राजनीतिज्ञ थे। कमल के समान शुद्ध सात्विक राजनीतिज्ञ रहे और राजनीति के मूल में पायी जाने वाली बुराईयों की दलदल से सदैव निरलिप्त रहे। जिस समय देश विदेशों से आयीं राजनैतिक विचारधारा साम्यवाद, पूँजीवाद और समाजवाद के संघर्ष में घिरा था। उन्होंने देश को भारत के मूल एकात्म मानव दर्शन पर आधारित विचारधारा एकात्म मानववाद दीं जिसमें अन्तिम स्थान पर बैठे निर्धन, मजदूर, शोषित पीड़ित का भी विचार किया गया था। उन्होंने केवल एकात्मता का दर्शन ही नहीं दिया उसे सदैव जीवन में भी जिया।
कार्यक्रम के अंत में कार्यक्रम अध्यक्ष आईआईएमटी विश्वविद्यालय के प्रबन्ध निदेशक मयंक अग्रवाल ने सभी का धन्यवाद दिया। कार्यक्रम में पत्रकारिता के छात्रों, अध्यापकों सहित बड़ी संख्या में पत्रकारों ने भी भाग लिया।