आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 05 Sep 2017 17:45:21

मस्तिष्क   की  शक्तियां  सूर्य  की  किरणों  के समान हैं।  जब  वो केन्द्रित  होती हैं, चमक  उठती हैं-स्वामी विवेकानंद