भोपाल की वंदना गांधी ने लिखी लव जेहाद पर किताब, दिल्ली में होगी विमोचित

दिंनाक: 10 Jan 2018 18:44:44


भोपाल(विसंके). लव जेहाद की आड़ में बर्बाद होती लडकियों की जिंदगी पर भोपाल की समाज शास्त्री वंदना गाँधी ने किताब लिखी है. ‘एक मुखौटा ऐसा भी’ नाम की किताब में लव जिहाद से जुडी 15 सच्ची घटनाओं को कहानियों की शक्ल में पिरोया गया है. किताब को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुडी संस्था अर्चना प्रकाशन ने प्रकाशित किया है. आरएसएस और उसकी अनुसांगिक संस्था विश्व हिन्दू परिषद् लव जेहाद के मुद्दे को उठाते रहे हैं. रायसेन के शासकीय महाविद्यालय में प्राध्यापक के पद पर पदस्थ वन्दना गांधी की किताब लव जिहाद की हकीकत को उजागर करती है. 85 पृष्ठों की किताब में डेढ़ दर्जन सच्ची कहानियां हैं इनमें से 6 कहानियां म.प्र. की घटना पर केन्द्रित हैं, तो बाकी देश के दुसरे हिस्सों से लिई गेन हैं. घटनाएं हैं, पात्रों के नाम व स्थान बदले गए हैं. एक मुखौटा ऐसा भी नाम की पुस्तक का विमोचन 10  जनवरी को दिल्ली के प्रगति मैदान में चल रहे राष्ट्रीय पुस्तक मैले में होगा.

पड़ताल में कई संकट आये सामने : वंदना

पुस्तक की लेखिका वंदना गाँधी कहती हैं कि उन्हें लव जेहाद की सच्ची घटनाओं का पता करना था. ऐसे में संघ से जुड़े लोगों ने उन्हें कई बार सहयोग दिया. वे न केवल पीड़ित लड़कियों के परिवार वालों से मिली बल्कि पीड़िताओं से मिलने में काफी मुश्किल का सामना करना पड़ा. कुछ जगह तो मुश्किल हालात बन गए. वंदना कहती हैं कि लव जिहाद की खौफनाक हकीकत सामने लाकर उन्हें बहुत संतोष है. यह किताब कॉलेज छात्राओं के लिए गीता है. हर युवती को इस किताब को जरूर पढना चाहिए.

क्या है अर्चना प्रकाशन

अर्चना प्रकाशन राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुडी एक संस्था है इसके ट्रस्ट में कई स्वयं सेवक और संघ के पदाधिकारी शामिल हैं अर्चा प्रकाशन का मुख्यालय भोपाल में है. यह प्रकाशन संघ के साहित्य का प्रकाशन करने के साथ ही सामजिक मुद्दों पर भी किताबें छापता है. अर्चना प्रकाशन के ट्रस्टी ओमप्रकाश गुप्ता ने बताया कि लव जेहाद की सच्ची घटनाओं पर देश में यह पहली किताब छपी है. इस किताब में उन युवतियों की पीड़ा को उजागर किया गया है, जो गलत कदम उठाने के बाद अब पछता रहीं है.

साभार:- पत्रिका समाचार-पत्र, दिनाँक- 09 जनवरी, 2018