देश की प्रथम महिला शिक्षिका श्रीमती सावित्री बाई ज्योतिबा फुले की जयंती 03 जनवरी के अवसर पर विद्या भारती द्वारा व्याख्यान का आयोजन

दिंनाक: 02 Jan 2018 15:10:58


भोपाल(विसंके). विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान विद्वत परिषद, भोपाल द्वारा दिनांक 03 जनवरी 2018 सायं 5:00 बजे शिक्षक, समाज और जीवन मूल्यों को लेकर “राष्ट्र निर्माण में शिक्षक की भूमिका” विषय पर सावित्री बाई ज्योतिबा फूले (एक आदर्श शिक्षिका) की जयंती के उपलक्ष्य में एक दिवसीय व्याख्यान माला का आयोजन मॉडल स्कूल सभागृह, तात्या टोपे नगर भोपाल में किया जा रहा है.
व्याख्यान माला का उद्देश्य शिक्षा के द्वारा प्राप्त होने वाला विविध विषयों का ज्ञान और इससे विकसित होने वाले बालक की अंतर्निहित शक्तियाँ, परिवार, समाज और राष्ट्रहित संरक्षण एवं बुराई के निवारण में उपयोगी हों, जीवन मूल्यों के विकास की दृष्टि प्रारंभ से ही संस्कार रुप में विकसित करना शिक्षा का मूल उद्देश्य है. इससे ही श्रेष्ठ नागरिक का सृजन संभव है, जो एक सुसंस्कृत एवं सभ्य समाज का मूलभूत घटक है. आईये विचार करें और अपनी भूमिका सुनिश्चित करने के लिए इस विचार यज्ञ में सहभागी हों.

इस एक दिवसीय व्याख्यान माला में अध्यक्षता डॉ. प्रमोदवर्मा (कुलपति, बरकतउल्लाह विश्वविद्यालय, भोपाल), मुख्य अतिथि श्रीमती दीप्ति गौड़ मुखर्जी (आई.ए.एस. प्रमुख सचिव, स्कूल शिक्षा भोपाल), मुख्य वक्ता माननीय अवनीश भटनागर (राष्ट्रीय मंत्री, विद्याभारती अ.भा.शिक्षा संस्थान, कुरुक्षेत्र), विशिष्ट अतिथि डॉ. रविन्द्र कान्हेरे (कुलपति, भोजमुक्तविश्वविद्यालय, भोपाल) एवं विशिष्ट अतिथि डॉ. मंजूलता शर्मा (प्राचार्या, शासकीय सरोजनी नायडू स्नातकोत्तर महाविद्यालय, भोपाल) आदि महानुभावों का इस एक दिवसीय व्याख्यान माला में मार्ग दर्शन प्राप्त होगा.

इस एक दिवसीय व्याख्यान माला में नगर के लेखक, विद्वत जन, समाज सेवी, शिक्षक, प्रशासनिक, एवं वरिष्ठ महानुभाव आदि उपस्थित रहेगें.