आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 31 Oct 2018 14:29:04


“जब जनता एक हो जाती है, तब उसके सामने क्रूर से क्रूर शासन भी नहीं टिक सकता। अतः जात-पांत के ऊँच-नीच के भेदभाव को भुलाकर सब एक हो जाइए.”

  • लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल