आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 06 Oct 2018 16:40:47


हम सभी को अपने - अपने  क्षत्रों में उसी समर्पण , उसी उत्साह, और उसी संकल्प के साथ काम करना होगा जो रणभूमि में एक योद्धा को प्रेरित और उत्साहित करती है. और यह सिर्फ बोलना नहीं है, बल्कि वास्तविकता में कर के दिखाना है.

  • लालबहादुर शास्त्री