आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 15 Nov 2018 13:41:46


हम कर्म के द्वारा अपने जीवन को, आत्मा को प्रकट करते हैं | चित्रकार को चित्र बनाने से, कवि को कवि कर्म से रोक दीजिये तो वह मर जाएगा |

  • पं. दीनदयाल उपाध्याय