निरंकारी भवन पर ग्रेनेड से हमला, तीन की मौत

दिंनाक: 19 Nov 2018 15:29:16


अमृतसर. पंजाब पुलिस के मुताबिक अमृतसर के राजासांसी स्थित निरंकारी भवन में रविवार को ग्रेनेड से किए गए हमले में तीन लोगों की मौत हो गई है, जबकि 20 जख्मी हुए. घटना रविवार सुबह 11 बजे की है. चश्मदीदों ने बताया कि बाइक सवार दो युवक निरंकारी भवन के पास पहुंचे और उन्होंने वहां गेट पर खड़ी एक लड़की को पिस्टल दिखाई तथा ग्रेनेड फैंक दिया. निरंकारी भवन में हर रविवार सतसंग होता है, धमाके के वक्त भी सतसंग चल रहा था. जिस कारण काफी संख्या में लोग उपस्थित थे. आईजी सुरिंदर पाल सिंह ने बताया कि ‘‘शुरुआती जांच में पता चला है कि दो हमलावर बाइक से आए. एक ग्रेनेड फेंका और फरार हो गए.’’ मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि पुलिस को घटना के पीछे विदेशी कट्टरपंथी संगठनों का हाथ होने का शक है. 1978 में उग्रवाद की शुरुआत भी निरंकारी भवन पर हमले से हुई थी.



पिछले दिनों पठानकोट से कार हाईजैक कर चार संदिग्धों के पंजाब में घुसने की सूचना भी मिली थी. ये लोग जम्मू रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी फुटेज में भी नजर आए थे. दिल्ली से सुरक्षा एजेंसियों ने पांच और संदिग्ध आतंकियों की तस्वीरें पंजाब के डीजीपी सुरेश अरोड़ा को भेजी गई थीं. इसके चलते पिछले कई दिनों से पंजाब में हाई अलर्ट था. ऐसी खबरें भी आ रही थीं कि चरमपंथी समूह जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े 5-6 लोग पंजाब के फिरोज़पुर क्षेत्र में हो सकते हैं.

 

 

 


यह घटना ठीक वैसी ही है, जैसी कि पंजाब में उग्रवाद की शुरुआत के वक्त हुई थी. तब 13 अप्रैल 1978 को बैसाखी के दिन अमृतसर में निरंकारी भवन पर हमला किया गया था.