राष्ट्रीय साहित्य पुस्तक मेले में बाल साहित्य महोत्सव का समापन हुआ

दिंनाक: 24 Dec 2018 15:01:58


भोपाल(विसंके). "कंप्यूटर बच्चों के लिए किसी कार्य को करने का साधन हो सकता है किंतु अनिवार्यता नहीं हम सभी को कंप्यूटर से अपनी गुणवत्ता को बढ़ाना है लेकिन यह ध्यान रहे कि किसी भी प्रकार से उसके अधीन नहीं होना है क्योंकि हमारी संस्कृति हमारी पहचान आधुनिकता में नहीं बल्कि हमारे पुरातन में छिपी हैं हमारी संस्कृति ने हमें मांगना नहीं बल्कि भगवान राम की तरह सर्वस्व निछावर करना सिखाया है "उक्त उद्गार बाल साहित्य महोत्सव के द्वितीय दिवस के कार्यक्रम में डॉ कृष्ण कुमार अस्थाना ने व्यक्त किए

" कंप्यूटर युग के बच्चे आज इतने आधुनिक हो गए हैं कि वह आधुनिकता की दौड़ में अपने परिवार को अपने संबंधों को भूलते जा रहे हैं इसमें दोष उनका भी नहीं है क्योंकि आज हम उन्हें समय नहीं दे पा रहे हैं उक्त उद्गार लखनऊ से पधारे डॉ नागेश पांडे ने बच्चों के बीच व्यक्ति किए

" बच्चों का मन माटी की तरह कोमल होता है किंतु आज उस माटी की सुगंध को कंप्यूटर की आधुनिकता खत्म करती जा रही है यह एक चिंता का विषय है उनकी भावनाओं को समझने वाला आज कोई भी नहीं है वह क्या चाहते हैं यह समझना बहुत जरूरी है उक्त उद्गार राजस्थान से पधारे वरिष्ठ बाल साहित्यकार डॉक्टर दीनदयाल शर्मा जी ने रखा |


कार्यक्रम के अगले चरण में पत्र लेखन प्रतियोगिता चित्रांकन से शब्दांकन प्रतियोगिता संपन्न कराई गई जिसमें 300 प्रतिभागियों ने भाग लिया तत्पश्चात रामचरितमानस पर प्रश्न मंच का आयोजन किया गया जिसमें विभिन्न विद्यालयों से 10 टीमों ने भाग लिया अगले चरण में साहित्यिक अंताक्षरी संपन्न कराई गई जिसमें 8 टीमों ने अपनी सहभागिता प्रदान करें उपरोक्त सभी प्रतियोगिताओं में लगभग 500 प्रतिभागियों ने अपनी सहभागिता प्रदान करी


आयोजन की अगली कड़ी में बाहर से पधारे हुए बाल साहित्यकारों द्वारा अपनी रचनाओं का पाठ किया एवं इसके पश्चात महाकौशल के प्रसिद्ध बाल साहित्यकारों द्वारा बाल कवि सम्मेलन की प्रस्तुति की गई 

स्वयं 6:00 बजे से सांस्कृतिक आयोजन संपन्न कराए गए जिसमें विभिन्न प्रतिभागियों ने अपनी मनमोहक प्रस्तुति प्रदान करी

पुस्तक मेले के चतुर्थ दिवस साहित्यकारों का महोत्सव प्रातः 10:30 बजे प्रारंभ होने जा रहा है जिसमें पूरे भारत वर्ष से लगभग एक सैकड़ा साहित्यकार अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे एवं शाम को राष्ट्रीय स्तर का कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा |  पुस्तक मेला समिति के समस्त  पदाधिकारियों द्वारा अधिक से अधिक संख्या में समस्त कार्यक्रमों में नगर की जनता से उपस्थित रहने का आग्रह किया है