आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 19 Feb 2018 14:00:29


ये शरीर नश्वर है, हमे इस शरीर के जरिये सिर्फ एक मौका मिला है, खुद को साबित करने का, कि मनुष्यता और आत्मविवेक क्या है.