आज की अभिव्यक्ति – स्वामी दयानंद सरस्वती

दिंनाक: 20 Feb 2018 19:28:27


क्रोध का भोजन विवेक है, इसलिए इससे बच कर रहना चाहिए क्योंकि ‘विवेक’ नष्ट हो जाने पर, सब कुछ नष्ट हो जाता है