भगवान श्रीराम सभी के आराध्य एवं आदर्श पुरुष हैं – चंपत राय जी

दिंनाक: 26 Mar 2018 17:17:07


नई दिल्ली (इंविसंकें). विश्व हिन्दू परिषद, इंद्रप्रस्थ के तत्वाधान में सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा दिल्ली, संत महामंडल एवं हिन्दू पर्व समन्वय समिति द्वारा भगवान श्री राम नवमी शोभायात्रा एवं राम जन्मभूमि अयोध्या में भव्य मंदिर निर्माण संकल्प सभा का आयोजन दिल्ली के रामलीला मैदान में किया गया. श्री राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के संकल्प से रामलीला मैदान गुंजायमान हो उठा. शोभायात्रा का उद्घाटन स्वामी राघवानन्द महाराज जी, चंपत राय जी, नवल किशोर महाराज जी, विवेक शाह महाराज जी, योगी गौऋषि गोठिया मठ द्वारा दीप प्रज्ज्वलन द्वारा किया गया.
मुख्य आकर्षण मुस्लिम धर्मगुरु की अगुवाई में शोभायात्रा का भव्य स्वागत रहा. शोभा यात्रा कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं एवं उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए विश्व हिन्दू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय महामंत्री चंपत राय जी ने कहा कि भगवान श्री राम समस्त मानवता के आराध्य देव एवं आदर्श पुरुष हैं. क्योंकि त्रेता युग में श्रीराम का जन्म हुआ, तब तक इस्लाम – ईसाईयत और अन्य किसी भी धर्म का प्रादुर्भाव इस धरती पर नहीं हुआ था तो तत्कालीन मानवता ने भगवान श्रीराम को अपना आराध्य स्वीकार किया. उन्होंने कहा कि अयोध्या में श्रीराम जी का मंदिर भारतीयों की कमजोरी के कारण टूटा था, लेकिन अब भारत स्वतंत्र और शक्तिशाली है. चैत्र शुक्ल प्रतिपदा समस्त सृष्टि को अपने नवीनतम स्वरूप में धारण करके संपूर्ण ब्रह्मंड को खुशियों से भर देती है.
शोभायात्रा के उद्घाटन पर नामधारी संत दलीप सिंह नामधारी जी, महामंडलेश्वर महंत नवल किशोर दास जी, राघवानंद महाराज जी ने भी जनसमूह को संबोधित किया. इस अवसर पर डेल्को के प्रमुख जगदीश चन्द्र चावला जी, विहिप के क्षेत्रीय संगठन मंत्री करुणा प्रकाश जी सहित पतंजलि, ब्रह्मकुमारीज, महावीर दल, इस्कान टेम्पल तथा आर्ट ऑफ लिविंग के प्रतिनिधि उपस्थित थे.


शोभायात्रा रामलीला मैदान से प्रारम्भ होकर आसफ अली रोड, दरिया गंज, चांदनी चैक, टाऊन हॉल, खारी बावली, सदर बाजार, पहाड़ी धीरज, एम.एम.रोड़, मॉडल बस्ती होते हुए गंगेश्वर धाम करोल बाग में स्वामी आनंद भास्कर जी के आर्शीवचन से सम्पन्न हुई. मार्ग में सभी समुदाय के नागरिकों ने शोभायात्रा का भव्य स्वागत किया.