आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 30 Mar 2018 17:13:41


हिन्दू जाति का सुख मेरा और मेरे कुटुंब का सुख है. हिन्दू जाति पर आने वाली विपत्ति हम सभी के लिए महासंकट है और हिन्दू जाति का अपमान हम सभी का अपमान है. ऐसी आत्मीयता की वृत्ति हिन्दू समाज के रोम-रोम में व्याप्त होनी चाहिए यही राष्ट्र धर्म का मूल मंत्र है.


    -परम पूजनीय डॉ. हेडगेवार जी