छत्तीसगढ़ में संघ के दो स्वयंसेवक पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित

दिंनाक: 10 Apr 2018 17:37:26


रायपुर(विसंके). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक तथा चांपा में स्थित भारतीय कुष्ट निवारक संघ के संचालक श्री दामोदर गणेश बापट जी को भारत सरकार ने समाजसेवा के क्षेत्र में पदमश्री पुरस्कार से अलंकृत किया है. लगभग 52 सालों से वे कुष्ठ रोगियों की नि:स्वार्थ सेवा कर रहे हैं अत: समाजसेवा के क्षेत्र में कल राष्ट्रपति जी ने उन्हें पदमश्री पुरस्कार से सम्मानित किया है. पत्रकारों से चर्चा करते हुए पदमश्री दामोदर गणेश बापट ने कहा कि यह सम्मान देश के उन कुष्ठ रोगियों के नाम है जो न सिर्फ रोग से लड़ रहे हैं बल्कि समाज से बहिष्कृत होने का अभिशाप झेलते हुए समाजसेवा में लगे हैं. उन्होंने कहा कि ऐसे बहुत से पुरस्कार मिले मगर असली पुरस्कार तब मिलेगा जब भारतीय समाज, कुष्ठ रोगियों की सेवा और उन्हें दिल से अपनाने हेतु सामने आएगा. 


इसी तरह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक और अंचल के प्रसिद्ध साहित्यकार, पत्रकार पं. श्यामलाल चतुर्वेदी को भारत सरकार ने पदमश्री से अलंकृत किया है. श्री श्याम लाल चतुर्वेदी जी छत्तीसगढ़ के साहित्य और पत्रकारिता की समृद्धि को बढ़ाने के लिए निरंतर संघर्षशील रहे। उन्होंने अपने सार्वजनिक जीवन मे आदर्श व स्वाभिमान का जो प्रतिमान स्थापित किया वो हम सब के लिए प्रेरणा दायक रहेगा। वे राजभाषा आयोग के अध्यक्ष भी रहे.