ताकि गर्मियाँ रहें सुहानी

दिंनाक: 16 Apr 2018 16:20:43


वैसे तो भारत एक गर्म देश है. देश में अधिकांश हिस्से गर्म ही रहते हैं. लेकिन पंजाब एक ऐसा प्रांत है जहां सर्दियों में ठिठुरने के बाद गर्मियों में पसीने-पसीने भी होना पडता है. ऐसे में कुछ उपाय जो इन गर्मियों में भी आपको शीतलता प्रदान करेंगे:-


  1. गर्मियों में आहार-विहार में लापरवाही न करें, भूख से ज्यादा भोजन न लें, प्यासे न रहें और बासी एवं दूषित पदार्थों का सेवन न करें. गर्मिंयों में मांसाहार न करें, इन्हें पचाने में ज्यादा समय लगता है.
  2. जिनकी पाचनशक्ति कमजोर होने से अपच और कब्ज रहता हो वे कुछ दिनों तक शाम को सिर्फ चावल व छिलके वाली मूंग दाल की खिचडी का सेवन करें और उसके दो घण्टे बाद सोने से पहले एक गिलास मीठे दूध में 1 चम्मच शुद्ध घी डाल कर घूंट-घूंटकर पियें.
  3. सूर्य की तेज धूप सिर पर ज्यादा देर तक न पडने दें, क्योंकि इससे लू लगने की सम्भावना रहती है. सिर को धूप से बचाने के लिए छाता, टोपी,  रूमाल या किसी भी नरम कपड़े से सिर को ढक लिया करें.
  4. दोपहर बाद नीबू की शिकंजी, ठण्डा शर्बत, ठण्डाई, पतला सत्तू, मौसम्बी या सन्तरे का रस आदि कोई भी एक शीतल पेय पीना चाहिए.
  5. ककड़ी व खीरे के सेवन से शीतलता मिलती है. सलाद, अंकुरित दालें, हरी सब्जियाँ ज्यादा लें.
  6. गर्मी में सूती कपड़े पहने.
  7. मिट्टी के बर्तन में पानी भरकर रखें, उसमें आंवला डालकर छोड दें कुछ समय बाद पी लें.
  8. प्याज लू से बचाता है. खाने के अतिरिक्त इसे अपनी जेब में रखें.
  9. शीतली व शीतली प्राणायाम के अभ्यास से शरीर को ठंडक पहुंचती है.