देश के उत्थान को लेकर माँ नर्मदा की परिक्रमा कर रहीं राधिका, 10 साल की उम्र में लिया था ब्रह्मचारिणी का व्रत

दिंनाक: 11 May 2018 17:17:48


भोपाल(विसंके). स्वामी विवेकानंद की देश भक्ति से प्रभावित 10 साल की उम्र में आजीवन ब्रह्मचारिणी का व्रत लेने वाली राधिका पटेल देगुवा नरसिंहपुर मां नर्मदा की पैदल परिक्रमा कर रहीं हैं. राधिका शुक्रवार को नर्मदा परिक्रमा करते लहौरा घाट पहुंची उन्होंने बताया कि दिल्ली में रहकर जीवन यापन करना चुनौतियों से भरा होता है. बीएससी व एम.ए. करने के बाद वह दिल्ली में आइएएस की मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार तक पहुंची. परीक्षा की तैयारी के दौरान उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. राधिका ने बताया कि अन्य प्रदेश से आने वाली छात्राओं को इस प्रकार की परेशानी नहीं हो इस संकल्प के साथ उन्होंने अपराजिता आईएएस एकेडमी की स्थापना की. पांच साल में 8 विधार्थियों की सफलता तक पहुंचाया राधिका ने बताया कि मुझे खुद अधिकारी बनने में इतनी ख़ुशी नहीं होती, जितनी ख़ुशी उन्हें अपने विधार्थियों के चयन पर हुई. वे ३ माह का समय निकालकर जीवन की वास्तविकता से रूबरू होकर देश के उत्थान का भाव लेकर मां नर्मदा की परिक्रमा कर रहीं हैं. उनका कहना है कि यदि समाज सेवा का भाव एवं संकल्प शक्ति व चरित्र हो तो कुछ भी पाना असंभव नहीं है. राधिका ने युवाओं और महिलाओं के लिए कहा कि देश बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है. प्रतिस्पर्धा के दौर में दैनिक अध्ययन और दृढ इच्छाशक्ति से हर मुकाम पाया जा सकता है. इससे परिस्थितियां आड़े नहीं आती हैं.

साभार : पत्रिका टिमरनी