आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 30 May 2018 15:20:32


भोपाल(विसंके). जो व्यक्ति अपना दोष जनता है उसे स्वीकार करता है, वही ऊँचा उठता है. हमारा प्रयत्न होना चाहिए कि हम अपने दोषों को त्याग दें.

                 - सरदार वल्लभ भाई पटेल