युवाओं का जीवन इंतजारी, बेकरारी, फौजदारी एवं रिश्तेदारी पर चलता है - डॉ. सुरेन्द्र बिहारी गोस्वामी

दिंनाक: 07 Jul 2018 17:10:38


भोपाल(विसंके). नेहरू युवा केन्द्र संगठन भोपाल, म.प्र. द्वारा राज्य के राष्ट्रीय युवा स्वयं सेवक प्रशिक्षण के लिये चयनित जिला युवा समन्वयक, लेखापाल एवं  युवा स्वयं सेवको के लिये 3 दिवसीय प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण आज दिनांक 07 जुलाई 2018 को उद्यमिता विद्यापीठ चित्रकूट के लोहिया सभागार में डॉ. सुरेन्द्र बिहारी गोस्वामी निदेशक हिन्दी ग्रंथ अकेडमी भोपाल के मुख्य अतिथि एवं नेहरू युवा केन्द्र संगठन के राज्य निदेशक श्री टी.एन. मिश्र की अध्यक्षता में शुभारम्भ किया गया। सर्व प्रथम अतिथियों द्वारा भारत माता के छायाचित्र में माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन उपरान्त नेहरू युवा केन्द्र सतना के पूर्व स्वयं सेवक आराधना त्यागी एवं साजदा परवीन द्वारा वन्दे मातरम् गीत का गायन कर किया गया। अतिथियों के स्वागत के उपरांत प्रशिक्षण प्रभारी जिला युवा समन्वयक सतना धीरज अग्रवाल ने स्वागत उद्बोधन में कहा कि दूर-दूर से आये प्रशिक्षकों को चित्रकूट की इस पावन नगरी में स्वागत है। उपरांत राज्य निदेशक नेहरू युवा केन्द्र संगठन टी.एन. मिश्र ने प्रशिक्षण के संदर्भ में जानकारी देते हुए बताया कि सभी जिलों को स्वयं सेवकों का आवंटन प्राप्त होता है। एक वर्ष के लिये चयनित स्वयं सेवकों को बेहतर कार्य करने पर द्वितीय वर्ष निरंतर का भी अवसर मिलता है। स्वयं सेवकों को प्रशिक्षण देने के लिये इन ऊर्जावान प्रषिक्षकों में इस प्रशिक्षण से दक्षता विकसित की जायेगी। इस टी.ओ.टी. के बाद स्वयं सेवकों का प्रशिक्षण आयोजित किया जायेगा। स्वयं सेवकों में प्रशिक्षण से ही कार्य की क्षमता विकसित की जाती है। नेहरू युवा केन्द्र के ये प्रशिक्षक प्रशिक्षण उपरान्त जैसे कुम्हार एक घडे़ को गढ़ता है वैसे ही युवाओं को गढ़ने का काम करेगें।


कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. सुरेन्द्र बिहारी गोस्वामी ने कहा कि युवाओं में सही सोंच एवं चयनित स्वयं सेवकों में समाज सेवा की भावना विकसित करना प्रशिक्षकों का कर्तव्य होना चाहिए। नेहरू युवा केन्द्र के सभी जिलों में जो स्वयं सेवक कार्य में रखे जाते हैं उनका कार्य युवा मण्डलों के संबर्धन हेतु सभी योजनाओं को गांव तक पहुचाने का होना चाहिए। युवाओं में सरकारी नौकरी के प्रति रूझान को कम करने हेतु कौशल विकास के लिये आगे आना होगा। युवाओं का जीवन इंतजारी, बेकरारी, फौजदारी एवं रिश्तेदार पर चलता है। जिला युवा समन्वयक टीकमगढ़ ने युवा प्रोफाइल पर परिचर्चा की। जिला युवा समन्वयक देवास अरविन्द श्रीधर ने नेहरू युवा केन्द्र संगठन के स्थापना उद्धेश्य पर विस्तृत चर्चा करते हुए कहा कि युवाओं के राष्ट्र के विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का काम नेहरू युवा केन्द्र करता है। महात्मा गांधी ग्रामोदय विष्वविद्यालय चित्रकूट के निदेशक मुख्यमंत्री सामुदायिक एवं नेतृत्व विकास स्कीम के डॉ. अमरजीत सिंह ने स्वयं सेवक विषय पर विस्तृत चर्चा करते हुए बताया कि स्वप्रेरणा से समाज की सेवा करना स्वयं सेवक के गुण है। नेहरू युवा केन्द्र के स्वयं सेवक गाँव-गाँव में सराहनीय कार्य कर रहे हैं। कार्यक्रम में म.प्र. के विभिन्न जिलों से 40 अधिकारी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। संचालन एम.पी. द्विवेदी एवं आभार प्रदर्शन डॉ. सुरेन्द्र शुक्ला जिला युवा समन्वयक रायसेन ने किया।