आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 10 Aug 2018 13:05:54


आत्मबल सामर्थ्य की तरफ ले जाता है, सामर्थ्य, विद्या प्रदान करता है |
विद्या स्थिरता प्रदान करती है  और स्थिरता, विजय की तरफ ले जाती है |

- छत्रपति शिवाजी महाराज