बालिका हिंसा रोकने के लिए जनजागरण अभियान

दिंनाक: 30 Aug 2018 17:49:41


भोपाल(विसंके). ‘‘मैं ईश्वर को साक्षी मानकर ये संकल्प लेता हूं कि मेरे संपर्क में आने वाली बालिकाओं का सम्मान करूंगा। मैं स्वयं बालिकाओं के प्रति क्रूरता, हिंसा, अभद्रता और असमान व्यवहार नहीं करूंगा और न ही करने दूंगा। मैं समाज में स्वस्थ्य वातावरण बनाने हेतु प्रतिज्ञाबद्ध होता हूं। मैं संकल्प लेता हूं कि बालिकाओं को सुरक्षित माहौल प्रदान करने में अपना पूरा सहयोग दूंगा एवं अन्य लोगों को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित करूंगा।’’ ऐसे संकल्प पत्र शहरवासियों से भरवाये जा रहे हैं।
बालिकाओं के प्रति समाज में सुरक्षित वातावरण का निर्माण करने के लिए मप्र महिला एवं बाल विकास विभाग और श्री सोमनाथ गुरूकुल संस्था के संयुक्त प्रयासों से चलाये जा रहे जनजागरण अभियान के अन्तर्गत अनेक स्थानों पर सामूहिक रूप से लोगों को एकत्रित कर संकल्प दिलाया जा रहा है। कार्यक्रम में ये अपील भी की जा रही है कि आप किसी और की बच्ची को सुरक्षा उपलब्ध करायें, कहीं कोई और आपकी बेटी की सुरक्षा करेगा। आइए हमारा सुरक्षा कवच हम खुद बनायें।

‘मैं संकल्प लेता हूं कि बालिकाओं का सम्मान करूंगा’’


कार्यक्रम में श्री सोमनाथ गुरूकुल संस्था के सचिव बालकृष्ण व्यास ने बताया कि बालिकाओं के समग्र विकास के लिए आसपास सुरक्षित वातावरण होने से उनका नैसर्गिक विकास हो पाता है एवं उन्हें समान अवसर उपलब्ध होते हैं इसलिए जरूरी है कि परिवार व समाज के विकास हेतु बालिका को स्वस्थ्य, सुरक्षित, शिक्षित एवं स्वावलंबी बनाया जाए। इस दिशा में समाज के सभी घटकों का सुव्यवस्थित तालमेल नितांत आवश्यक है।


कार्यक्रम का संचालन कर रहे सुदर्शन सिंह ने कहा कि सभी स्कूलों में एक-दूसरे का संबोधन भैया-दीदी जैसे शब्दों से करने पर जोर दिया जा रहा है। इतना ही नहीं नैतिक शिक्षा और संस्कारों को प्रोत्साहित करने का कार्य किया जा रहा है। इस अवसर पर नशामुक्ति पर भी चर्चा की गई।