आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 07 Aug 2018 16:15:14


अगर आप वास्तवं में अपने आप से प्रेम करते है, तो आप किसी दूसरे  को दु:खी नहीं कर सकते हैं |


  • गौतम बुद्ध