आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 18 Sep 2018 14:18:26


मर्यादा केवल न करने की नहीं होती है, करने की भी होती है. बुरे की लकीर मत लांघो, लेकिन अच्छे की लकीर तक चहल पहल होनी चाहिए.

  • डॉ. राममनोहर लोहिया