आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 19 Sep 2018 17:19:19


अंग्रेजी का इतना दबदबा कहीं नहीं है. इसीलिए भारत आजाद होते हुए भी गुलाम है.

- डॉ. राम मनोहर लोहिया