दीनदयाल शोध संस्थान में सामुहिक रूप से मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयंती

दिंनाक: 25 Sep 2018 18:19:53


आज पं. दीनदयालजी की 102वीं जयंती सामुहिक रूप से दीनदयाल शोध संस्थान चित्रकूट के दीनदयाल पार्क में मनाई गयी। इस अवसर पर दीनदयाल शोध संस्थान के प्रकल्प आरोग्यधाम, उद्यमिता विद्यापीठ, गुरूकुल संकुल, सुरेन्द्रपाल ग्रामोदय विद्यालय, रामनाथ गोयन कास्मारक, चित्रकूट रसशाला, दिशा दर्शन केन्द्र, गौशाला, नन्ही दुनियां, राम दर्शन इत्यादि प्रकल्पों के कार्यकर्ता एवं लगभग 1500 स्कूली बच्चों ने पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की प्रतिमा के समक्ष अपने-अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किये।


पं. दीनदयाल जी के जयंती के अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुये भारतीय मजदूर संघ के राष्ट्रीय संगठन मंत्री श्री सुरेन्द्रनजी पं. दीनदयाल जी उपाध्याय के प्रारंभिक संघर्षमय जीवन का जिक्र करते हुये उनके द्वारा दिये गये विचार एकात्म मानव दर्षन के प्रासंगिकता पर प्रकाश डालते हुये कहा कि पं. दीनदयालजी के एकात्म मानव दर्षन को व्यवहारिक धरातल पर मूर्तरूप देने वाले राष्ट्र ऋषि नानाजी देशमुख की कर्म भूमि चित्रकूट में उनके प्रकल्प में आकर मै स्वयं को उर्जावान महसूस कर रहा हूँ । उन्होंने सभी से इनमहापुरूष के विचारों को अपने व्यवहारिक जीवन में आत्मसात करने की बात कही।


इस अवसर पर महात्मा गाँधी चित्रकूट ग्रामोदय विष्वविद्यालय के कुलपति प्रो. नरेशचन्द्र गौतम, डी.आर.आई के संगठन सचिव श्री अभय महाजन, राजस्थान आर.एस.एस. के प्रचारक श्री पिल्लई जी, पं. दीनदयालजी की प्रतिमा के समक्ष अपनी-अपनी पुष्पांजलि अर्पित की।कार्यक्रम का संचालन सुरेन्द्र पाल ग्रामोदय विद्यालय के शिक्षक श्री अशोक दीक्षित ने किया। कार्यक्रम का समापन सामूहिक सर्वे भवन्तु सुखिनः के साथसम्पन्न हुआ।कार्यक्रम समाप्ति के बाद दीनदयाल पार्क में उपस्थित सुरेन्द्र पाल गा्रमोदय विद्यालय के सभी बच्चों, कार्यकर्ताओं एवं अतिथिओं को प्रसाद वितरित किया गया।