डी.आर.आई चित्रकूट में होने वाले 4 दिवसीय ग्रामोदय मेले में बच्चों की प्रतिभा खोज हेतु विभिन्न प्रतियोगिताओं का होगा शुभारंभ

दिंनाक: 11 Feb 2019 17:05:15


भोपाल(विसंके). चित्रकूट एकात्म मानववाद के प्रणेता पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की पुण्यतिथि पर दीनदयाल परिसर में उनकी प्रतिमा के समक्ष दीनदयाल शोध संस्थान के सभी कार्यकर्ताओं ने श्रद्धा सुमन अर्पित किये गये एवं उनके विचारों को अपने जीवन में आत्मसात कर समाज व राष्ट्र को समृद्धषाली बनाने की शपथ ली गयी। क्योंकि नानाजी ने पं. जी की अकाल मृत्यु के पश्चात उनके चिंतन को साकार रूप देने के लिये ही दीनदयाल शोध संस्थान की स्थापना कर ग्राम विकास का माडल प्रस्तुत किया। जिसमें महात्मा गांधी एवं बिनोवा भावे जी के विचारों को भी आत्मसात किया। इसी क्रम में संस्थान द्वारा मझगवां में कृषि मेला एवं औषधीय पौधों के भण्डारण एवं संग्रहण पर एक दिवसीय गोष्ठी का आयोजन भी किया गया।

भारत सरकार द्वारा दीनदयाल शोध संस्थान के सहयोग से आगामी 24 से 27 फरवरी तक सुरेन्द्र पाल ग्रामोदय विद्यालय खेल प्रांगण, दीनदयाल परिसर चित्रकूट में 4 दिवसीय ग्रामोदय मेले का आयोजन कर रहा है। मेले में केन्द्र सरकार, प्रदेश सरकारें निजी क्षेत्र, स्वयंसेवी संस्था एवं लघु व कुटीर उद्योगों के द्वारा प्रदर्शनी का भी आयोजन किया जायेगा। इस प्रदर्शनी में सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं के साथ फूड कार्नर, मनोरंजन, खादी ग्रामोद्योग के उत्पादों के साथ विभिन्न विभागों के विकास की झांकी भी शामिल रहेगी। प्रदर्शनी के जरिये लोगों को शिक्षा, कृषि, स्वास्थ्य व अन्य क्षेत्रों में देश की हो रही प्रगति की जानकारी दी जायेगी। 


ग्रामोदय मेला अपने आप में एक अनूठा आयोजन है, जिसमें विभिन्न मंत्रीगण, बुद्धिजीवियों के साथ संवाद, समाज की भागीदारी, समाज की पहल, खान-पान की सुविधा, सामाजिक चर्चाऐं मेले के माध्यम से आपसी संवाद से अनुभवों को बांटना एवं व्यापारिक अदान-प्रदान, ग्राम विकास की सारी गतिविधियों का मॉडल आदि शामिल रहेगा। कार्यक्रम में आगामी मेले को दृष्टिगत रखते हुए कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारियां दी गयी जिससे मेले का सफल आयोजन सम्पन्न हो सके।