आज की अभिव्यक्ति

दिंनाक: 15 Feb 2019 14:54:54

 


शहीदों का रक्त अभी गीला है और चिता की राख में चिंगारियां बाकी हैं। उजड़े हुए सुहाग और जंजीरों में जकड़ी हुई जवानियाँ उन उग्त्याचारों की गवाह हैं।

                                 -अटल बिहारी वाजपेयी