5 साल तक कश्मीर टूर का बहिष्कार, 200 ट्रेवल एजेंट्स का फैसला.

दिंनाक: 21 Feb 2019 11:54:32


राजकोट. पुलवामा में हुए आतंकी हमले के विरोध में सौराष्ट्र के 200 ट्रेवल एजेंट्स ने 5 साल तक कश्मीर टूर की एक भी टिकट बुक न करने का फैसला किया है। इस तरह से उन्होंने अपनी देशभक्ति का परिचय देते हुए 300 करोड़ के बिजनेस पर लात मार दी है। उनके इस फैसले से कश्मीरी एजेंट्स बुरी तरह से घबरा गए हैं। उन्होंने ट्रेवल एजेंट्स से गुहार लगाई है कि ऐसा मत करें।


स्थानीय एजेंट्स ने बात तक नहीं की


सौराष्ट्र के एजेंट्स के निर्णय की जानकारी होते ही कश्मीरी एजेंट्स के हाथ-पैर फूल गए। उन्होंने गुहार लगाई है कि ऐसा न करें, उन्होंने एजेँट्स को कई तरह के लालच दिए, पर्यटकों की पूरी सुरक्षा की गारंटी दी। लेकिन सौराष्ट्र के एजेंट्स ने उनकी गुहार को ठुकराकर देशभक्ति का परिचय दिया है। इतना ही नहीं, इन एजेंट्स ने अपने पेकेज-बैनर से कश्मीर शब्द ही निकाल दिया है। इसके अलावा किसी पेकेट में कश्मीर टिकट फ्री हो, तो उसे नहीं स्वीकारने का निर्णय लिया है। स्थानीय एजेंट्स इस संबंध में कश्मीरी एजेंट्स से बात तक नहीं कर रहे हैं।


240 एजेंट्स का समर्थन


इस निर्णय का सौराष्ट्र के 170 ट्रेवल्स एजेंट और रेल्वे के 70 एजेंट्स ने अपना समर्थन दिया है। सौराष्ट्र में लोग गर्मी की छुट्टियों में केरल, कश्मीर, कुलू-मनाली, शिमला समेत कई हिल स्टेशन जाते हैं। पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद सौराष्ट्र के एजेंट्स ने सख्त कदम उठाते हुए अपना विरोध दर्ज किया है।
सैनिकोें से अलग कुछ भी नहीं


इस देश के एक-एक जवान की जिंदगी अमूल्य है। उनसे देश का भविष्य उज्जवल है। हम पर जब भी मुसीबत आएगी, देश का सैनिक हमारे साथ होगा। आज समय है हम सैनिकों के साथ खड़े हों। जब तक आतंकी हमले बंद नहीं होते, तब तक एक भी टूर कश्मीर का नहीं होगा। इस तरह का निर्णय भी एक तरह की देशभक्ति ही है।