सेना ने खोली पाकिस्तान के झूठ की पोल

दिंनाक: 01 Mar 2019 17:17:12


भारत पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति में विंग कमांडर अभिनंदन को लेकर आज शाम बड़ी सूचना मिली. तो दूसरी ओर तीनों सेनाओं की ओर से शाम सात बजे संयुक्त प्रेस वार्ता कर पाकिस्तान के झूठ की पोल खोली.


वायुसेना

– पाकिस्तान ने पहले कहा कि उसके पास भारत के दो पायलट हैं, लेकिन शाम तक कहा कि एक ही

पायलट उसके कब्जे में है.

– भारतीय पायलट को पाकिस्तान ने एलओसी से गिरफ्त में लिया.

– पाकिस्तान के विमानों ने हमारे सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की कोशिश की.

– भारतीय वायुसेना के मिग 21 ने पाकिस्तान के एफ16 को मार गिराया. एफ16 में लगने वाले मिसाइल के अवशेष भारतीय इलाके में मिले.

– पाकिस्तान ने एफ 16 के इस्तेमाल की बात को नकारा, लेकिन राजौरी में एमरॉम मिसाइल के

अवशेष मिले जो एफ16 में ही इस्तेमाल होता है.

– विंग कमांडर अभिनंदन के भारत लौटने का इंतजार है. वायुसेना खुश है कि वह भारत लौट रहे हैं.

– हमारे पास पक्के सबूत हैं कि बालाकोट में आतंकी कैंप को भारी नुकसान पहुंचा है. अभी ये नहीं बता

सकते कि कितने आतंकी मारे गए.

– पाकिस्तान के पास एफ16 विमान है, हम पता लगा सकते हैं कि कौन सा जहाज हमारी तरफ आ रहा है. हर जहाज का इलेक्ट्रॉनिक सिग्नेचर होता, हमने उसे मैच किया. इसलिए हम कह सकते हैं कि एफ16 विमान इस हमले में शामिल थे. पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट में देखेंगे कि कुछ इंजन के हिस्से मिले हैं, वे मिग 21 के नहीं हैं. इसे देखकर कहा जा सकता है कि हमले में एफ16 का इस्तेमाल हुआ है.

– हम जो करना चाहते थे वो हमने हासिल किया, अब सरकार के ऊपर है कि वो किस तरह इन सबूतों को सामने रखे.

– हम विंग कमांडर अभिनंदन को जल्द से जल्द देखना चाहते हैं.

थलसेना

– पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर का उल्लंघन जारी है.

– भारतीय सेना ने हर इलाके से मुंहतोड़ जवाब दिया है.

– हमने पूरे इलाके को हाई अलर्ट पर रखा है, हम पूरी तरह तैयार हैं और पाकिस्तान की किसी भी

हिमाकत का जवाब देने को तैयार हैं.

– भारत और इसके नागरिकों के खिलाफ काम करने वालों को सबक सिखाते रहेंगे.

– हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है, आतंकी कैंपों को टारगेट करते रहेंगे.

 नौसेना

– भारतीय नौसेना पूरी तरह तैयार है. जमीन, हवा और पानी सब जगह हम तैयार हैं.

– हम हर स्थिति का सामना करने को तैयार हैं, थल सेना और नौ सेना के साथ मिलकर काम करेंगे. हम अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए तत्पर हैं.