कांग्रेस नेत्री द्वारा स्वयंसेवकों पर लगाये गए आरोपों का सच

दिंनाक: 09 Apr 2019 18:59:35


मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले के शुजालपुर तहसील के जे.न.एस. कॉलेज में सुबह लगने वाली संघ की शाखा को हटाने के सम्बन्ध में महिला कांग्रेस प्रदेश सचिव चंचल जादौन ने शुजालपुर जिले के SDM वी.पी. सिंह को ज्ञापन सौंपा है.

ज्ञापन में श्रीमती चंचल जादौन ने आरोप लगाया है कि संघ के शाखा जो सुबह लगती है उस दौरान स्वयंसेवक अभद्र भाषा का प्रयोग करते हैं, जिसके कारण मॉर्निंग वाक पर जाने वाली महिलाओं व युवतिओं को परेशानी होती है.

संघ की शाखाओं की थोड़ी भी समझ रखने वाला या उससे परिचित व्यक्ति यह बता सकता है की यह आरोप निराधार हैं और संघ के किसी शाखा में कभी भी अपशब्दों या अभद्र भाषा का इस्तेमाल नहीं किया जाता. आरोप गंभीर थे नतीजतन हमनें स्थानीय लोगों से इस विषय पर बात करके मामले की हकीकत जानने की कोशिश की.

 

सालों से लग रही है संघ की शाखा

स्थानीय निवासी हरिओम मेवाडा ने हमें बताया की उक्त जगह पर 2-3 सालों से संघ की शाखा लग रही है, जिसमें आस पास के क्षेत्र में रहने वाले स्वयंसेवक हिस्सा लेते हैं. संघ की किसी भी और शाखा की तरह यहाँ स्वयंसेवक शारीरिक व्यायाम और खेल खेलते है. इस शाखा में हर उम्र के लगभग 100 स्वयंसेवक भाग लेते हैं.

क्या है मामला ?

मामले की और अधिक पड़ताल के बाद हमें पता चला की दरअसल उस सुबह हुआ क्या था. श्रीमती चंचल जादौन कुछ और महिलाओं के साथ उक्त पार्क में मॉर्निंग वाक के लिए पहुँचीं और जिस स्थान पर शाखा लगती है वहां बैठी थीं. स्वयंसेवक तय समय पर संघ स्थान पर पहुंचे और शाखा लगाने की तयारी करने लगे, इसी क्रम में शाखा प्रमुख ने उनसे दूसरी जगह जाकर बैठने का आग्रह किया ताकि उन्हें कोई परेशानी न हो और स्वयंसेवक रोज की तरह शाखा लगा सकें. इस बात पर श्रीमती चंचल जादौन नाराज हो गई और शोर-शराबा करने लगीं, स्थानीय निवासियों और स्वयंसेवकों ने उन्हें समझाने की कोशिश की लेकिन वह किसी की बात सुनने को तैयार नहीं थीं.

कांग्रेस पहले ही अपने इरादे स्पष्ट कर चुकी है

जिस राजनितिक दल से श्रीमती चंचल जी का सम्बन्ध है उसने हमेशा संघ को लेकर अपने जहरीले इरादे स्पष्ट किए हैं. भारत का हर नागरिक इस बात से परिचित है कि किस तरह इनके वरिष्ट नेता दिगविजय सिंह ने हिन्दू आतंकवाद की परिकल्पना गढ़ने की कोशिश की थी. मध्यप्रदेश चुनावों से पहले भी कांग्रेस यह स्पष्ट कर चुकी है कि वह संघ की शाखाएं लगने नहीं देना चाहती, हाल ही में भोपाल स्थित संघ के कार्यालय से सुरक्षा हटाकर कांग्रेस की सरकार ने अपने इरादे स्पष्ट कर दिए थे.

संभव है की श्रीमती चंचल जादौन जी पार्टी में अपना कद बढाने के लिए संघ की शाखा का इस्तेमाल करना चाहती हों, लेकिन उन्हें इस विषय में जान लेना चाहिए कि संघ की शाखा संस्कार निर्माण का काम करती है, उस शाखा पर ऐसे अनर्गल आरोप लगाकर आपने देश भर के स्वयंसेवकों को बदनाम करने का प्रयास किया है .