देवर्षि नारद सम्मान-2019 से सम्मानित होंगे वरिष्ठ पत्रकार जयराम शुक्ल

दिंनाक: 28 Jun 2019 19:13:15


भोपाल, 28 जून। विश्व संवाद केंद्र, मध्यप्रदेश की ओर से इस वर्ष 'देवर्षि नारद सम्मान' वरिष्ठ संपादक श्री जयराम शुक्ल को दिया जा रहा है। सम्मान समारोह का आयोजन 30 जून, रविवार को होटल पलाश में अपराह्न 3 बजे से किया जाएगा। समारोह में बतौर अतिथि वरिष्ठ पत्रकार श्रीमान रामकृपाल सिंह, नई दिल्ली और श्रीमान आनंद पाण्डेय उपस्थित रहेंगे। इस अवसर पर ‘सांस्कृतिक रूप से समृद्ध नया भारत और मीडिया’ विषय पर व्याख्यान भी आयोजित है। इसके साथ ही विश्व संवाद केंद्र की ओर से पत्रकार श्री हरेकृष्ण दुबोलिया, सुश्री पल्लवी वाघेला, श्री हेमंत जोशी और श्री हर्ष पचौरी के सरोकारी समाचारों को 'देवर्षि नारद पत्रकारिता पुरस्कार' प्रदान किया जाएगा।

            विश्व संवाद केंद्र, मध्यप्रदेश के सचिव श्री दिनेश जैन ने बताया कि केंद्र प्रतिवर्ष देवर्षि नारद जयंती के उपलक्ष्य में पत्रकार सम्मान समारोह का आयोजन करता है, जिसमें पत्रकारिता में उल्लेखनीय योगदान और पत्रकारिता को समाजहित का माध्यम बनाने वाले एक पत्रकार को 'देवर्षि नारद सम्मान' से सम्मानित किया जाता है। इस वर्ष यह सम्मान वरिष्ठ पत्रकार श्री जयराम शुक्ल को दिया जा रहा है। केंद्र ने सम्मान के लिए नाम का चयन करने के लिए एक सुझाव समिति बनाई थी, जिसमें श्री विजय मनोहर तिवारी, श्री शरद द्विवेदी, शिव कुमार विवेक एवं श्री धनंजय प्रताप सिंह शामिल थे। सुझाव समिति द्वारा  20 से अधिक नामों का सुझाव दिया गया था, जिनमें से निर्णायक मंडल ने श्री जयराम शुक्ल के नाम का चयन किया। निर्णायक मंडल में प्रख्यात संपादक श्री महेश श्रीवास्तव, हिंदीसेवी वरिष्ठ साहित्यकार श्री कैलाशचंद्र पंत, मीडिया शिक्षक एवं वरिष्ठ संपादक प्रो. कमल दीक्षित, वरिष्ठ संपादक श्री गिरीश उपाध्याय और वरिष्ठ पत्रकार श्री रमेश शर्मा  शामिल हैं।

सकारात्मक एवं सृजनात्मक रिपोर्टिंग के लिए इन पत्रकारों को ‘देवर्षि नारद पत्रकारिता पुरस्कार :

श्री जैन ने बताया कि विश्व संवाद केंद्र प्रतिवर्ष प्रदेश के पत्रकारों के सरोकारी एवं रचनात्मक समाचारों को भी देवर्षि नारद पुरस्कार प्रदान करता है। इस वर्ष चार पत्रकारों के समाचारों का चयन इस पुरस्कार के लिए किया गया है। पर्यावरण पर शासन-प्रशासन एवं समाज को आईना दिखाने वाले समाचारों के लिए श्री हरेकृष्ण दुबोलिया एवं हर्ष पचौरी तथा श्री हेमंत जोशी के प्रेरक समाचार और महिलाओं द्वारा किये जा रहे रचनात्मक कार्यों को सामने लाने वाले समाचार के लिए सुश्री पल्लवी वाघेला को ‘देवर्षि नारद पत्रकारिता पुरस्कार’ प्रदान किया जा रहा है।

 


श्री शुक्ल वर्ष 1984 से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय हैं। आप पीपुल्स समाचार समूह और स्टार समाचार समूह के प्रधान संपादक रहे हैं। दैनिक भास्कर पत्र समूह में फीचर संपादक एवं संपादकीय प्रभारी के नाते सेवाएं दी हैं। दैनिक देशबंधु समाचार पत्र से आपने अपने पत्रकारीय जीवन का आरम्भ किया था। स्वतंत्र पत्रकार के नाते आप जनसत्ता, रविवार, माया, पीटीआई, यूएनआई, दैनिक आज से जुड़े रहे हैं। राष्ट्रीय और प्रादेशिक समाचार पत्र-पत्रिकाओं में नियमित आपके आलेख प्रकाशित हो रहे हैं। आपको प्रेस क्लब आफ कोलकाता का विशिष्ट सम्मान, अंतरराष्ट्रीय महाउर कला सम्मान, माधवराव सप्रे संग्रहालय का प्रतिष्ठित 'हुकुमचंद नारद सम्मान' (2015) इत्यादि सम्मान प्राप्त हुए हैं।

कहानी सफेद बाघ की (Tale of The White Tiger) आपकी बहुप्रशंसित द्विभाषीय पुस्तक है। रीवा के समीप स्थित ‘मुकुंदपुर व्हाइट टाइगर सफारी’ में प्रदर्शित सफ़ेद बाघ की कहानी में आपकी पुस्तक के अंश विशेष तौर पर प्रदर्शित किये गए हैं। विंध्यप्रदेश के उदय एवं अस्त को रेखांकित करती पुस्तक ‘पुनरोदय का संघर्ष’ भी बहुचर्चित है।