भोपाल में आदिल ने ले ली पूजा की जान, इंदौर में समीर ने राज बन कर किया दुष्कर्म

दिंनाक: 10 Jan 2021 17:27:24

 

 


 

भोपाल और इंदौर में लव जिहाद के दो अलग अलग मामले सामने आए हैं. भोपाल जहाँ लव जिहाद से पीड़ित एक 26 साल की लड़की ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली तो इंदौर में समीर नामक युवक ने राज नाम बता कर लड़की को प्रेम जाल में फसाया और उससे दुष्कर्म किया. भोपाल की मृतक लड़की ने 5 लाइन का सुसाइड नोट भी छोड़ा है. मृतिका ने सुसाइड नोट में लिखा है, ''मेरा नाम पूजा है. मैं आत्महत्या करने जा रही हूं. इसका जिम्मेदार आदिल खान सन ऑफ खलीक खान है.'' इस नोट में लड़की ने आरोपी का पता और मोबाइल नंबर भी लिखा है.

मृत लड़की ने अपने भाई को बता रखी थी हर बात

मृत लड़की के परिजनों का आरोप है कि आदिल ने अपना नाम छिपाकर उनकी बेटी से दोस्ती की थी. वह तकरीबन 8 साल से अच्छे दोस्त थे. भोपाल के टीटी नगर निवासी पूजा के भाई राहुल ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार शाम पूजा अपने कमरे में चली गई और अंदर से दरवाजा बंद कर लिया. उस वक्त सभी घर पर मौजूद थे. मां ने दरवाजा खटखटाया, लेकिन पूजा ने नहीं खोला. किसी अनहोनी की आशंका पर जब बलपूर्वक दरवाजा खोल गया तो पूजा फांसी के फंदे पर लटकी मिली.

 

भाई का आरोप- आदिल ने हिंदू नाम बताकर की बहन से दोस्ती

मृत लड़की के भाई राहुल ने आदिल को अपनी बहन की आत्महत्या के लिए जिम्मेदार बताया है. भाई का कहना है कि आदिल से पूजा करीब 8 साल पहले मिली थी. तब उसने अपना धर्म हिंदू बताया था. दोनों की अच्छी दोस्ती थी. राहुल ने पुलिस को बताया कि आदिल उसकी बहन पूजा पर लगातार मुस्लिम बनने के लिए दबाव डालता, उसके मारपीट करता. जब उसने धर्म परिवर्तन से इनकार कर दिया तो आदिल ने दूसरी लड़की से सगाई कर ली. इससे आहत होकर पूजा ने आत्महत्या कर लिया

पुलिस ने लड़की के सुसाइड नोट और परिजनों के बयान के आधार पर आदिल के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में केस दर्ज कर लिया है.

 

इंदौर में समीर ने दुष्कर्म कर गाड़ी के लिए पैसे भी लिए

इंदौर की 26 वर्षीय लड़की की शिकायत पर पुलिस ने समीर नामक युवक पर केस दर्ज किया है. युवती ने पुलिस को बताया कि वह निजी कंपनी में काम करती है 4 साल पहले मुलाकात हुई थी धीरे धीरे दोस्ती प्रेम तक पहुँच गई. उस वक्त युवक ने अपना नाम राज बताया था कुछ समय बाद युवक ने उससे कहा कि वह उससे शादी करना चाहता है. इसके लिए युवक ने अपने पिता से भी युवती को मिलाया था, युवती ने समीर के भरोसे में आकर उसके साथ सम्बन्ध बनाए .युवती को बातों में लेकर युवक ने उससे पैसे लेकर गाड़ी और मोबाइल भी खरीद लिया.

फिर पीड़िता ने राज से शादी करने के लिए कहा तो युवक कार की डिमांड भी रखने लगा लड़की ने मना कर दिया जिससे आरोपी शादी के लिए पलट गए. इस मामले के बाद पीड़िता ने आरोपी के बारे में पता किया तो जानकारी लगी कि राज का असल नाम समीर है वह दूसरे धर्म से ताल्लुक रखता है. युवती ने इस मामले की शिकायत महिला थाने पहुँच कर केस दर्ज कराया है.

 

मध्य प्रदेश में लव जेहाद के खिलाफ लाए गए अध्यादेश के बाद यह पहला मामला है. इस अध्यादेश के लागू होने के बाद आदिल पर संबंधित धाराओं में कार्रवाई हो सकती है. ''मध्य प्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम 2020'' अध्यादेश में इस तरह के मामलों में 5 से 10 साल तक की सजा का प्रावधान है.