समाचार

25 जून / इतिहास स्मृति – …..और अंग्रेज सेना को करना पड़ा समर्पण

नई दिल्ली. जिन अंग्रेजों के अत्याचार की पूरी दुनिया में चर्चा होती है,  भारतीय वीरों ने कई बार उनके छक्के छुड़ाए थे. ऐसे कई प्रसंग इतिहास के पृष्ठों पर सुरक्षित हैं. ऐसा ही एक स्वर्णिम पृष्ठ कानपुर (उ.प्र.) से सम्बन्धित है. वर्ष 1857 में जब द..

“आपातकाल” भारतीय लोकतंत्र का काला अध्याय – 25 जून 1975

25 जून, यानी वह दिन जब भारतीय इतिहास के सर्वाधिक विवादास्पद फैसले का ऐलान किया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाधी की सलाह पर राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद ने 25 जून, 1975 अर्धरात्री में भारतीय संविधान की धारा 352 के तहत आपातकाल की घोष..

आत्म विस्मृति को दूर कर राष्ट्र की सुप्त आत्मा को जगाना होगा – अरुण कुमार जी

नई दिल्ली (इंविसंकें). राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के अखिल भारतीय सह सम्पर्क प्रमुख अरुण कुमार जी ने कहा कि आत्म विस्मृति को दूर भगाकर राष्ट्र की सोयी हुई आत्मा को जगाना होगा. ये हमारा दुर्भाग्य रहा है कि हम पश्चिम की दृष्टि से देखने–सोचने लगे हैं. बी..

योग को जीवन में उतारकर योगमय जीवन बनाना चाहिये – दत्तात्रेय होसबाले जी

लखनऊ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले जी ने कहा कि योग जीवन पद्धति है. योग को जीवन में उतारकर योगमय जीवन बनाना चाहिए. सह सरकार्यवाह जी रविवार को विश्व संवाद केन्द्र के अधीश सभागार में पाक्षिक पत्रिका अवध प्रहरी के य..

विहिप की प्रान्त मार्गदर्शक मण्डल की बैठक सम्पन्न

जयपुर. विश्व हिन्दू परिषद के प्रांतीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक श्री सियारामदासजी महाराज की बगीची, ढहर के बालाजी सीकर रोड में सम्पन्न हुई. बैठक में प्रांत के समस्त प्रमुख संत उपस्थित थे. मुख्य वक्ता केन्द्रीय मंत्री अशोक तिवारी जी ने कहा कि राष्ट्र निर्म..

जानें रामनाथ कोविंद के बारे में कुछ खास बाते

बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद होंगे एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी l जानें उनके बारे में कुछ ख़ास बातें....... वर्ष 1994 से 2006 के बीच दो बार राज्यसभा सदस्य रह चुके रामनाथ कोविंद उत्तर प्रदेश के कानपुर से हैं. पेशे से वकील कोविंद भाजपा के ..

सामाजिक व्यवस्था में समरसता एक श्रेष्ठ तत्व है-गुणवंत जी कोठारी

आगरा। हमारे महापुरूषों ने भारतवर्ष की सृष्टि को समरसता के सूत्रों में हमेशा से एकीकृत करने का प्रयोग किया है और वर्तमान में इसका प्रकृतिकरण हमें देखाई देता है एक स्वयंसेवक के अनुशासन में। हमारा पड़ोसी किस जाति का है, किसान है या मजदूर, वकील है या डॉक्टर,..

उत्तर बंग विहिप का आवासीय प्रशिक्षण वर्ग प्रारंभ

सिलीगुड़ी (विसंकें). विश्व हिन्दू परिषद उत्तर बंग प्रांत का दस दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण वर्ग 10 जून से प्रारंभ हुआ है. वर्ग सिलीगुड़ी के समीप शालबाड़ी स्थित कल्याण आश्रम के परिसर में चल रहा है, वर्ग 20 जून को समाप्त होगा. वर्ग का शुभारंभ विहिप केंद्रीय स..

सिख पंथ से गुजरात का खून का रिश्ता - विजय रुपानी

अहमदाबाद (गांधी नगर) । सर्वंशदानी श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी महाराज के 350 वें प्रकाश पर्व वर्ष- 2017 को समर्पित ‘ साबरमती रिवर प्रफंट ’ में आयोजित महान समागम में लाखों संगतों को गौरवान्वित होते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रुपानी जी न..

राष्ट्रहित और किसान हितों में कोई अंतर नहीं – बद्रीनाथ चौधरी जी

किसान आंदोलनों के नाम पर देशभर में फैलाया जा रहा भ्रम शिमला (विसंकें). भारतीय किसान संघ के अखिल भारतीय महामंत्री बद्रीनाथ चौधरी जी ने कहा कि राष्ट्रहित और किसान हितों में कोई अंतर नहीं है. राष्ट्रीय संपत्ति को नुकसान पहुंचाना किसान को नुकसान पहुंचाने के समान है. भारतीय किसान संघ देश का सबसे बड़ा किसान प्रतिनिधि संगठन है, ऐसे में जो मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र में किसान आंदोलन हो रहे हैं और राजस्थान में आंदोलन शुरू होने जा रहा है, उसे लेकर देश में कई भ्रांतियां फैलायी जा रही हैं. बद्रीनाथ जी विश्व संवाद ..

संगठित व सबल हो, समाज के विकास में कार्य करें – चंद्रकांता जी

नई दिल्ली (इंविसंकें). राष्ट्र सेविका समिति दिल्ली प्रान्त के शिक्षा वर्ग – प्रथम वर्ष (प्रशिक्षण शिविर) का 11 जून को समापन हुआ. 15 दिनों तक चलने वाले संघ शिक्षा वर्ग की वर्गाधिकारी साध्वी रमा भारती थीं. समिति शिक्षा वर्ग के समापन के अवसर पर शिक्..

संघ शिक्षा वर्ग—प्रथम का समापन, 30 जिलों के 285 स्वयंसेवकों ने भाग लिया

नई दिल्ली , 10 जून। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ , दिल्ली प्रान्त द्वारा सेवा धाम विद्यालय मंडोली में संघ शिक्षा वर्ग- प्रथम वर्ष ( प्रशिक्षण शिविर ) का आज 10 जून को समापन हुआ । बीस  दिनों तक चलने वाले संघ शिक्षा वर्ग के वर्गाधिकारी राष्ट्रीय स्वयंसेवक ..

समाज में एकात्मता स्थापित हो इस हेतु संघ का कार्य सर्वत्र चल रहा है-अरुण जैन

हरदा, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मध्यभारत प्रांत द्वारा आयोजित 20 दिवसीय संघ शिक्षा वर्ग प्रथम वर्ष का स्वयंसेवकों के शारीरिक कार्यक्रमों के प्रदर्शन के साथ स्थानीय सरस्वती विद्या मंदिर , इंदोऱ रोड़, हरदा में समापन हुआ।..

गौमाता कृषि और किसान के आर्थिक विकास का आधार – सुरेश भय्याजी जोशी

पुणे (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्या जी जोशी ने कहा कि गौरक्षा केवल आस्था का विषय नहीं है. गौमाता इस देश में कृषि और किसान के आर्थिक विकास का आधार है. यह किसी संप्रदाय विशेष के विरोध में नहीं है. सरकार्यवाह जी पश्चिम महाराष्..

विश्व कल्याण का काम भारत ही कर सकता है – डॉ. मोहन भागवत जी

नागपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि भारत में पंथ, भाषा, परंपरा, पर्यावरण में विविधता है, फिर भी यह एकता की भूमि है. क्योंकि यहाँ हिन्दू बहुसंख्यक हैं और हिन्दू विचार की दृष्टि सबको स्वीकार करती है. ऐसे सबको..

संघ का कार्य किसी का विरोध नहीं परन्तु राष्ट्रभक्त नागरिको का निर्माण करना है – श्री किशोर भाई मुंगलपरा

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, गुजरात प्रांत (दक्षिण गुजरात और उत्तर गुजरात विभाग) के प्रथम वर्ष संघ शिक्षा वर्ग, प्रकट समारोप कार्यक्रम का आयोजन गुजरात के हिम्मत नगर में किया गया. इस कार्यक्रम में अतिथि विशेष के रूप में श्री मनहरभाई पटेल (संयोजक, श्री गायत्र..

हम पेड़ लगाकर ही पर्यावरण बचा सकते हैं-हितानंद शर्मा

बैतूल की सोनाघाटी पहाड़ी को हरी-भरी बनाने का लक्ष्य लेकर प्रारम्भ हुए #गंगावतरण अभियान के तहत #विश्व_पर्यावरण दिवस पर जिले भर से आये सैंकडों श्रमदानियों ने चार-चार के दल ने बनाकर प्रातः ७ बजे से ९:३० बजे तक जमकर पसीना बहाया और पहाड़ी पर छः फुट लम्बी, दो फ..

मनुष्य और प्रकृति अन्योन्याश्रित हैं: डॉ. बजरंग लाल गुप्ता

नई दिल्ली , 5 जून। विश्व में आज बाहरी पर्यावरण और प्रदूषण की चर्चा हो रही है , जबकि हमारे देश में मनीषियों ने आंतरिक पर्यावरण और प्रदूषण की बात कही है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उत्तर क्षेत्र संघचालक डॉ. बजरंग लाल गुप्ता ने यह विचार आज ' पर्यावरण दर्शन..

राष्ट्र की तेजस्विता बढाने में देश की अर्धांग महिलाओं का सहभाग होना चाहिए-डॉ. शरण रेणु

विसंके जयपुर। राष्ट्र की तेजस्विता बढाने में देश की अर्धांग महिलाओं का सहभाग होना चाहिए क्योंकि महिलाएं परिवार का केन्द्र बिन्दु होने के साथ साथ देश की भावी पीढी की निर्माता है यह वक्तव्य था राष्ट्र सेविका समिति की अखिल भारतीय बौद्धिक प्रमुख डॉ. शरण रेण..

अुनशासन और शौर्य के साथ मातृ शक्ति का पथ संचलन

विसंके जयपुर । अनुशासन और शौर्य के साथ मातृ शक्ति बीते 31 मई को जयपुर शहर के मार्गो पर कदम से कदम मिलाते हुए पथ संचलन करते हुए निकली। अवसर था राष्ट्र सेविका समिति द्वारा प्रबोध शिक्षा वर्ग में आयोजित पथ संचलन का। 15 दिवसीय प्रबोध शिक्षा वर्ग जवाहर नगर ..

भारत में विश्व को भोगवाद व आतंकवाद से मुक्त करने की क्षमता – सुहासराव

विसंके जयपुर। कार्यकर्ताओ के निर्माण की प्रक्रिया संघ में निरंतर चलती रहती है, संघ शिक्षा वर्ग इसी निर्माण की एक कडी है। चरित्रवान, राष्ट्रभक्त, अनुशासित कार्यकर्ता निर्माण हो यह संघ शिक्षा वर्ग का विशेष उद्देश्य होता है। संघ की अपेक्षा है कि इस प्रकार ..

अभाविप राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने दो प्रस्ताव पारित किये

कृषि शिक्षा को मुख्यधारा में लाने की मांग केरल में कम्युनिस्ट हिंसा रोकने के लिये केन्द्र सरकार से हस्तक्षेप की मांग लखनऊ (विसंकें). अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की राष्ट्रीय कार्यकारी परिषद की बैठक में नई राष्ट्रीय कृषि एवं शिक्षा नीति बनाये जाने को ..

हम प्राणी मात्र में एक ही आत्मा का भाव रखते हैं

हरिद्वार (विसंकें). विश्व हिन्दू परिषद केंद्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक छुआछूत मुक्त भारत, समरस, समृद्ध तथा सबल हिन्दू समाज बनाने के संकल्प के साथ 1 जून प्रारम्भ हुई. उदासीन आश्रम में प्रारम्भ तीन दिवसीय बैठक के उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता जगतगुरु शंकराचार..

उत्तराखण्ड बोर्ड परीक्षा में विद्या भारती के विद्यालयों ने बनाया नया कीर्तिमान

देहरादून (विसंकें). उत्तराखण्ड विद्यालयी शिक्षा परिषद की 12वीं की बोर्ड परीक्षा में विद्या भारती द्वारा संचालित विद्यालयों ने नया कीर्तिमान बनाया है. बोर्ड द्वारा घोषित परिणाम में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए पहले, दूसरे व तीसरे स्थान पर विद्या भारती से स..

केरल, बंगाल में सत्ता पक्ष के संरक्षण में चल रही गतिविधियां चिंता का विषय – विनय बिद्रे जी

लखनऊ (विसंकें). अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री विनय बिद्रे जी ने कहा कि देश में एक तरफ राष्ट्रवादी विचारधारा लगातार लोकप्रिय हो रही है. दूसरी तरफ देश के खिलाफ साजिश करने वाले तत्व भी सक्रिय हैं. ऐसे लोगों को परिषद बेनकाब करेगी. इनके..

गौ-तस्कर, पत्थरबाज, नारियों का अपमान करने वाले व देश विरोधी नारे लगाने वालों के मानव अधिकार नहीं – इंद्रेश कुमार जी

जयपुर (विसंकें). राजापार्क स्थित आदर्श विद्या मन्दिर में संघ शिक्षा वर्ग प्रथम वर्ष के समापन अवसर पर मुख्य वक्ता इन्द्रेश कुमार जी ने कहा कि सेना पर पथराव करने वाले, गौ हत्यारे, गौ-तस्कर व गौ मांस खाने वाले, विश्वविद्यालयों में देश विरोधी नारे लगाने वाल..

समाज और स्वयंसेवक मिलकर कर रहे गाँवों का कायापलट

ग्राम विकास के लिए नानाजी देशमुख ‘युगानुकूल ग्रामीण पुनर्रचना’ शब्द प्रयोग किया करते थे. प्रकृति संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण आदि गांव से जुड़ीं जो मूलभूत चीजें हैं, उनका संरक्षण ही गांव का विकास है. इसके अलावा कृषि यानी भूमि की उर्वरा शक्ति, जल..

विद्या भारती की प्रगति को देख कर प्रदान की बस

देहरादून (विसंके): उत्तराखण्ड में शैक्षिक क्षेत्र में विद्या भारती का नाम सबसे अग्रणी संस्थानों में है। इसकी सफलता को देखते हुए परम श्रद्धेय श्री भोले जी महाराज एवं करूणामयी माता श्री मंगलादेवी जी की प्रेरणा से हंस कल्चरल सेन्टर ने विद्या भारती के स्कूल..

लेखकों को लेखन में विविधता एवं नवीनता बनाए रखना चाहिए-जगदीश उपासने

नोएडा। प्रेरणा मीडिया शोध संस्थान एवं केशव संवाद पत्रिका के संयुक्त तत्वाधान में संस्थान में लेखन की विभिन्न आयामों पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। तथा केशव संवाद पत्रिका के जून अंक पर्यावरण विशेषांक का विमोचन किया गया। इस कार्यशाला के चार सत्..

समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर राष्ट्र को परम वैभव पर ले जाना ही संघ का उद्देश्य – सुनील भाई मेहता

देवगिरी (विसंकें). देवगिरी प्रांत के प्रथम वर्ष संघ शिक्षा वर्ग का समापन समारोह 27 मई को लातूर में हुआ. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पश्चिम क्षेत्र कार्यवाह सुनील भाई मेहता ने कहा कि समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर राष्ट्र को परम वैभव पर ले  जाना ही..

‘अभिव्यक्ति की आज़ादी पर खतरा’ सोशल मिडिया का शोर : रोहित सरदाना

सोशल मिडिया आज नाराजगी व्यक्त करने का शक्तिशाली माध्यम बन गया है, इससे मतभिन्नता और नाराजगी में गफलत होती है. अभिव्यक्ति की आज़ादी पर खतरे का शोर मचता है, ऐसा प्रतिपादन झी न्यूजके रोहित सरदाना ने विश्‍व संवाद केन्द्र नागपुर द्वारा आयोजित नारद जयंती प..

वनवासी बंधुओं के उत्थान के लिए प्रतिबद्ध है वनवासी कल्याण आश्रम : श्री अजय जी

नई दिल्ली, 29 मई। वनवासी बंधुओं के कल्याण के लिए सतत प्रयास करने की जरूरत है और वनवासी कल्याण आश्रम इस दिशा में लगातार प्रयास करने के लिए प्रतिबद्ध है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय बौद्धिक प्रमुख श्री अजय ने संगठन के वार्षिक उत्सव के अवसर पर ये ..

देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए विदेशी सहायता से परहेज करना होगा-प्रो. मधु किश्वर

पटना, 27 मई। देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए विदेशी सहायता से परहेज करना होगा। जब तक देश की पत्रकारिता, शैक्षणिक संस्थान, एनजीओ आदि विदेशी फंडिंग से चलेगी तब तक आंतरिक सुरक्षा की बात करना बेमानी होगी। आज विदेशी फडिंग का ही नतीजा है कि देश विरोधी पत्रकारिता..

नदियों के बिना हमारे जीवन की कल्पना भी संभव नहीं : अनिल माधव दवे

नदियों के बिना हमारे जीवन की कल्पना भी संभव नहीं : अनिल माधव दवे मनीष वैद्य :  इंडिया वाटर पोर्टल से साभार  .पानी और पर्यावरण पर गहरी समझ के साथ नदियों से समाज को जोड़ने और नर्मदा को सदानीरा बनाने की हरसंभव कोशिश में आजीवन जुटे रहे अनिल माधव दवे का प्रोफाइल “नदियाँ हमारे जीवन का अभिन्न हिस्सा हैं। नदियों के बिना जीवन की कल्पना भी संभव नहीं। भारतीय संस्कृति में नदियों को बड़ी श्रद्धा से देखा गया है। उसे किसी कर्मकांड के अंतर्गत माता नहीं माना, बल्कि पर्यावरण और प्रकृति को स्वच्छ ..

जो पत्रकारिता लोकमंगल के लिए की जाए, वही वास्तविक पत्रकारिता है – अमिताभ अग्निहोत्री जी

सीतापुर (विसंकें) l के न्यूज़ चैनल के सीईओ अमिताभ अग्निहोत्री जी ने कहा कि जो पत्रकारिता लोकमंगल के लिए की जाए, वही वास्तविक पत्रकारिता है. जबकि निज मंगल के लिए किया गया काम पत्रकारिता की श्रेणी में नहीं आता. देवर्षि नारद की पत्रकारिता पूरी तरह से लोकमंगल की ही थी. वह जिस लोक में जाते थे, वहां सिर्फ और सिर्फ उन्हीं सूचनाओं का आदान प्रदान करते थे जो लोकमंगल की हों. अमिताभ जी आदि पत्रकार देवर्षि नारद की जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने ..

जी एम सरसों को लेकर स्वदेशी जागरण मंच का खुला ख़त प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी को !

  जी एम सरसों का विरोध प्रतिष्ठा में,श्री नरेंद्र मोदीमाननीय प्रधान मंत्री, प्रधान मंत्री, भारत सरकारदक्षिण ब्लॉक, रायसीना हिल, नई दिल्ली - 110011 विषय : अवैज्ञानिक, विषाक्त और जैव विविधता के लिए हानिप्रद जीएम सरसों का उत्पादन जल्दबाजी में प्रारम्भ किया जाना | श्रीमान महोदय, पिछले दिनों आनुवंशिक इंजीनियरिंग मूल्यांकन समिति (जीईएसी) द्वारा जीएम सरसों को सुरक्षित और पोषक तत्व के रूप में उत्पादन हेतु अनुमोदन किया गया है | स्वदेशी जागरण मंच, उनके द्वारा की गई उक्त सिफारिश पर अपनी गहरी पीड़ा ..

सफल होने के साथ-साथ व्यक्ति का जीवन उद्देश्यपूर्ण भी होना चाहिए – डॉ. मोहन भागवत

नई दिल्ली , 23 मई , 2017 ( इंविसंके)। जीवन में सफल होने के साथ-साथ जीवन को उद्देश्यपूर्ण भी होना चाहिए। तभी मनुष्य को प्राप्त विद्या सार्थक होती है। ऐसे उत्कृष्ट कार्य को विद्या भारती पूरी मेहनत के साथ कर रही है। उक्त विचार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर..

आरोग्य भारती हिमाचल प्रान्त की कार्यशाला सम्पन

आरोग्य भारती द्वारा हिमाचल प्रान्त कार्यशाला 14 मई 2017 हिमरश्मि परिसर, विकास नगर, शिमला में संम्पन्न हुई जिसमें प्रदेश के 12 में से 10 जिलों के 88 प्रतिनिधयों ने भाग लिया, प्रतिनिधियों ने जिला अनुसार चर्चा के बाद आगामी वर्ष के लिये कार्ययोजना प्रस्तुत ..

स्वदेशी अपनाने से होगा खुशहाल भारत का निर्माण – डॉ. मनमोहन वैद्य जी

नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख डॉ. मनमोहन वैद्य जी ने कहा कि स्वदेशी जागरण मंच एक मंच नहीं, अपितु सभी भारतीयों के लिए स्वदेशी वस्तुएं अपनाने का एक राष्ट्रव्यापी अभियान है, जो कई वर्षों से इस दिशा में कार्य कर रहा है. डॉ...

भारतीय कृषि को जैविक खेती की ओर ले जाने का प्रयास करें – दिनेश जी

जयपुर (विसंकें). भारतीय किसान संघ के राष्ट्रीय संगठन मंत्री दिनेश जी ने कहा कि सरकार नियमों का सरलीकरण कर तथा किसानों को पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध करवाकर रासायनिक खेती की जगह जैविक खेती की और भारतीय कृषि को ले जाने का प्रयास करें. दिनेश जी केशव विद्यापिठ..

1857 का स्वाधीनता संग्राम – कालपी का संघर्ष / 23 मई -1858

1857 का स्वाधीनता संग्राम देश के अधिकांश भागों में लड़ा गया था; पर दुर्भाग्यवश यह सफल नहीं हो सका। इसके संचालन का मुख्य केन्द्र उत्तर प्रदेश में कालपी नगर था। वहाँ यमुना नदी की ऊँची कगार पर बने दुर्ग में इस क्रान्ति का नियन्त्रण कक्ष था। दुर्ग के एक भूम..

"स्मृति-शेष श्री अनिल माधव दवे"बौद्धिक तेज से दमकता था उनका व्यक्तित्व-संजय द्विवेदी

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री श्री अनिल माधव दवे,देश के उन चुनिंदाराजनेताओं में थे, जिनमें एक बौद्धिक गुरूत्वाकर्षण मौजूद था। उन्हें देखने, सुनने और सुनते रहने का मन होता था। पानी, पर्यावरण,नदी और राष्ट्र के भविष्य से जुड़े सवालों पर उनमें गहरी अंर्तदृष्टि मौजूद थी। उनके साथ नदी महोत्सवों ,विश्व हिंदी सम्मेलन-भोपाल, अंतरराष्ट्रीय विचार महाकुंभ-उज्जैन सहित कई आयोजनों में काम करने का मौका मिला। उनकी विलक्षणता के आसपास होना कठिन था। वे एक ऐसे कठिन समय में हमें छोड़कर चले गए, जब देश को उनकी जरूरत सबसे ज्यादा ..

अनिल दवे जी के निधन पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी का शोक संदेश

श्री अनिल माधव दवे जब भोपाल में विभाग प्रचारक के नाते कार्य देख रहे थे, तब से मेरी उनके साथ अच्छी मित्रता थी. इसलिये उनका हृदयाघात से अचानक परलोक सिधार जाना मेरे लिये व्यक्तिगत हानि व वेदना का अनुभव है. विभाग प्रचारक, भारतीय जनता पार्टी के विभिन्न पदों का कार्यभार सम्भालने वाला कार्यकर्ता, नर्मदा तथा अन्य नदियों के जलप्रबंधन व पर्यावरण को लेकर जागरण अभियान चलाने वाला कार्यकर्ता, छत्रपति शिवाजी महाराज के कर्तृत्व व नेतृत्व के अभ्यासक तथा केन्द्र में सांसद व मंत्री के नाते काम करते हुए मैंने ..

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ – संघ शिक्षा वर्ग तृतीय वर्ष का शुभारम्भ

नागपुर (विसंकें). रेशिमबाग स्थित डॉ. हेडगवार स्मृति भवन परिसर के महर्षि व्यास सभागृह में तृतीय वर्ष संघ शिक्षा वर्ग का सोमवार प्रातः शुभारंभ हुआ. उद्घाटन सत्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि संघ से जुड़ने के पश..

जल संरक्षण की आवश्यकता, कोशिश, कामयाबी तथा प्रभाव -डॉ वेद प्रकाश सिंह

  प्रस्तावनाः बदलते परिवेश में विभिन्न आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु कृषि में निरन्तर गुणवत्तापूर्ण बदलाव आवश्यक है। ऐसी कृषि पद्धतियां एवं फसलों का विकास करने की आवश्यकता है जो कम से कम पानी में अधिक से अधिक गुणवत्तायुक्त उपज दे सके। आज देश में जितनी..

भारत की सोच वसुधैव कुटुंबकम -प्रो राकेश

भुनेश्वर (विसंकें) l राजधानी में आयोजित नारद सम्मान समरोह में मुख्य वक्ता के तौर पर उपस्थित राकेश सिन्हा ने कहा कि भारतीय समाज प्रयोगधर्मी समाज रहा है। यहां विभिन्न मतों को सम्मान दिया जाता है। केवल अपना ही मत श्रेष्ठ है यह भारतीय धारणा नहीं है। पश्चिम के लिए समग्र विश्व एक बाजार है जबकि भारतीय संस्कृति समग्र विश्व को कुटुंब मानती है। बाजार की बावना और कुटुंब की भावना में सोच का अंतर है। प्रो. सिन्हा ने कहा कि भारतीय जनमानस को समझने के लिए विश्वविद्यालयों में जाकर अध्ययन करने की आवश्यकता नहीं है। ..

पत्रकारों का दायित्व है कि वह समाज में व्याप्त बुराइयों को उजागर करें-डॉ सुब्रह्मण्यम स्वामी

विसंके (देहरादून) l 14 मई 2017, देवऋषि नारद एक ऐसे पत्रकार थे जो अच्छे काम करने वालों को अच्छी सीख देते थे और बुरा काम करने वालों की बुराइयों को सामने लाकर उजागर करते थे। उक्त बात विश्व संवाद केन्द्र द्वारा आयोजित आदि पत्रकार देवऋषि नारद जी की जयन्ती पर ब..

राष्ट्रीयता व मूल्यों के आधार पर हो पत्रकारिता-रामदत्त चक्रधर

पत्रकारिता राष्ट्रीयता व मूल्यों के आधार पर होनी चाहिए। पत्रकारों की भूमिका सार्थक दिशा में हो। चुनौतियां बहुत हैं, पर उन्हीं चुनौतियों में से रास्ते भी निकलते हैं। समाज को दिशा देने के लिए लिखना और गति देना होगा। वर्तमान पत्रकार देवर्षि नारद की परंपरा ..

सार्थक-सफलता का नहीं, भारतीय-अभारतीय का द्वन्द है मीडिया में – उमेश उपाध्याय

भोपाल (विसंकें) 14 मई 2017 । वरिष्ठ पत्रकार श्री उमेश उपाध्याय ने कहा कि सफलता का पैमाना यदि वही है जो सार्थक होने का है तो फिर जो सार्थक है वही सफ़ल है l लेकिन वर्तमान में मीडिया ही नहीं अन्य जगत में भी सफलता के पैमाने बदल गए हैं l मीडिया में वर्तमान मे..

भारतीय विचार के संरक्षण व संवर्धन की आवश्यकता – आशुतोष शुक्ल जी

लखनऊ (विसंकें). दैनिक जागरण के संपादक आशुतोष शुक्ल जी ने कहा कि भारतीय विचार के रक्षण और संरक्षण की आज सबसे ज्यादा आवश्यकता है. यह भारतीय विचार और सनातन संस्कृति की शक्ति ही है, जो हमें श्रेष्ठ बनाती है तथा कुरीतियों से लड़ने की भी क्षमता प्रदान करती है...

सवा सौ वर्षों से भारतीय समाज को जाति के आधार पर बांटने का प्रयास किया गया – बलवीर पुंज जी

जयपुर (विसंकें). वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तम्भ लेखक बलवीर पुंज जी ने कहा कि पिछले करीब सवा सौ वर्ष से भारतीय समाज को जाति के आधार पर बांटने का प्रयास किया जा रहा है. महापुरूषों को जाति की परिधि में बांधने का षड्यंत्र किया जा रहा है. जबकि महारणा प्रताप,..

सोशल मीडिया के प्रयोग में निरन्तर राष्ट्रहित एवं सामाजिक हित को ध्यान में रखना चाहिए-जे. नन्दकुमार जी

वाराणसी (विसंकें). विश्व संवाद केन्द्र काशी एवं पत्रकारिता एवं जनसम्प्रेषण विभाग काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वाधान में चिकित्सा विज्ञान संस्थान के केएन उडुप्पा सभागार में आदि पत्रकार देवर्षि नारद जयन्ती के शुभ अवसर पर पत्रकार सम्मान समारोह ए..

सकारात्मक समाज के निर्माण में पत्रकार की भूमिका एक निर्देशक की है-नरेन्द्र कुमार जी

शिमला (विसंकें) l राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र कुमार जी ने कहा कि सकारात्मक समाज के निर्माण में पत्रकार की भूमिका एक निर्देशक की है, ऐसे में देश को दिशा देने के लिए पत्रकारों को निष्पक्षता से काम करना होगा. उन्होंने एज..

पत्रकारों को व्यवहार में पारदर्शिता और नैतिकता का मापदंड अपनाना चाहिये – दत्तात्रेय होसबले जी

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि समाज को कैसा होने की शिक्षा देने वाले पत्रकारों (मीडिया) को देखने, बोलने और लिखने को लेकर आत्मपरीक्षण करना चाहिए. पत्रकारों को अपने व्यवहार में पारदर्शिता रखनी चाहि..

विद्या भारती द्वारा प्रतिभा सम्मान समारोह सम्पन्न

कुल प्रावीण्य सूची में 20 प्रतिशत स्थान पर सरस्वती शिशु मंदिर के विद्यार्थी हैं । भोपाल (विसंकें) l विद्याभारती मध्यप्रदेश द्वारा आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह प्रज्ञादीप हर्षवर्धन नगर भोपाल में प्रदेश के शिक्षामंत्री श्री डॉ. विजय शाह, म.प्र. माध्यमिक शिक्षा मण्डल भोपाल के अध्यक्ष श्री एस.आर. मोहन्ती एवं उपाध्यक्ष डॉ. भागीरथ कुमरावत, की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ। सरस्वती शिशु मंदिर में अध्ययनरत भैया-बहिन अनेक क्षेत्रों में उपलब्धियाँ प्राप्त करते रहे हैं जिनका समय-समय पर विद्याभारती अभिनन्दन ..

अमेरिका की भांति ‘बाय इंडिया एक्ट’ बनाए केंद्र सरकार – आरपी सिंह

सामरिक क्षेत्रों में चीनी कंपनियों की उपस्थिति देश की सुरक्षा को खतरा   जालंधर (विसंकें). जिस तरह अमेरिका ने ‘बाय अमेरिका एक्ट-1933’ बना कर वहां के सरकारी संस्थानों को स्वदेशी माल की खरीद सुनिश्चित की है, उसी तरह भारत सरकार भी ‘..

गर्भ संस्कार- यह वैदिक अधिजनन पद्धति है

आरोग्य भारती भारतीय स्वास्थ्य चिन्तन पर आधारित आरोग्य क्षेत्र में कार्यरत अखिल भारतीय स्वयंसेवी संगठन है तथा स्वास्थ्य जागरण के विभिन्न कार्यक्रमों द्वारा स्वस्थ राष्ट्र के निर्माण मे कार्यरत है | आरोग्य भारती द्वारा भारतवर्ष के सामान्य नागरिकों..

विद्या भारती के द्वारा किया जाएगा प्रतिभा अभिनंदन समारोह का आयोजन

भोपाल (विसंकें) 11 मई 2017 l विद्याभारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान द्वारा संचालित मध्यप्रदेश के शिशु मंदिरों में अध्ययनरत भैया-बहिन अनेक क्षेत्रों में उपलब्धियां प्राप्त कर रहे हैं जिनका समय समय पर संस्था अभिनन्दन करती रही है l इसी क्रम में माध्यमिक शि..

स्वदेशी जागरण मंच ने चीनी माल के बहिष्कार के लिए सौंपा ज्ञापन

11 मई, वीरवार, (विश्व संवाद केंद्र शिमला)। स्वदेशी जागरण मंच शिमला विभाग ने 11 मई 1998 को पूरी तरह स्वदेशी तकनीक से किये गये परमाणु विस्फोट को याद करते हुए चीनी माल का बहिष्कार करने के संदर्भ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को उपायुक्त रोहन चंद ठाकुर के ..

प्रत्येक भारतीय मत सामंजस्य स्थापना की कोशिश करता है – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

सांस्कृतिक प्रवाह शोध पत्रिका विशेषांक ‘भारत में धार्मिक जनसांख्यिकी असंतुलन’ का विमोचन जयपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने कहा कि जो भारतीय मत-संप्रदाय (कबीरपंथी-दादुपंथी-रामानंदी आदि) है, उनमें कोई..

नए भारत को विश्व में सम्मान दिलवाने में अपनी भूमिका निभाए मीडिया – हितेश शंकर जी

जालंधर (विसंकें). हिन्दी साप्ताहिक पाञ्चजन्य के संपादक हितेश शंकर जी ने कहा कि भारत जितना प्राचीन है, उतना नवीन भी और वर्तमान में सदियों के संघर्ष के बाद एक नया भारत उभर कर दुनिया के सामने प्रस्तुत होने को तैयार खड़ा है. इसी नए भारत को विश्व में सम्मान ..

भारतीय पत्रकारिता के लिए आज नारद ही सही मायने में आदर्श – जगदीश उपासने जी

मेरठ (विसंकें) l साहिबाबाद स्थित इन्द्रप्रस्थ इंजीनियरिंग कॉलेज में विश्व संवाद केंद्र वैशाली महानगर द्वारा नारद जयंती समारोह का आयोजन किया गया. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ज़ी-न्यूज़ के संपादक (आउटपुट) रोहित सरदाना ने उपस्थित पत्रकारों व प्रबुद्धजनों को संब..

गुजरात में 900 बहिनों ने सेल्फ डिफेंस का प्रशिक्षण लिया

राष्ट्र सेविका समिति द्वारा गुजरात के विभिन्न स्थानों पर 7 शिविरों का आयोजन किया गया l राज्य के सीमावर्ती, वनवासी तथा शहरी क्षेत्र से 900 से अधिक बहिनों को इन शिबिरो में सेल्फ डिफेंस का प्रशिक्षण दिया गया l जिसमे तलवार, लाठी, कराटे (नियुद्ध) सीखने के लि..

मीडिया पर देश को दिशा देने की जिम्मेदारी होती है-गिरधर मालवीय

गाजियाबाद (विसंकें) l पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में राष्ट्र जागरण समिति द्वारा केरल और पश्चिम बंगाल में संघ कार्यकर्ताओं पर हो रहे हमलों के विरोध में विशाल धरने का आयोजन किया गया। इसमें लोगों ने हजारों की संख्या में भाग लिया। इस अवसर पर जिला..

गुजरात प्रांत प्रथम वर्ष - संघ शिक्षा वर्ग का हुआ शुभारंभ

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, गुजरात प्रांत का प्रथम वर्ष संघ शिक्षा वर्ग का प्रारंभ दिनांक 7 मई रविवार से हुआ l इसबार हिम्मतनगर तथा भावनगर दो स्थानों पर वर्ग आयोजित किया गया है l भावनगर में श्री स्वामीनारायण गुरुकुल, अकवाडा के संकुल में आयोजित संघ शिक्षा वर..

श्री गुरु तेगबहादुर जी आज भी हैं विश्व के लिए प्रेरणा स्रोत – डॉ. कृष्ण गोपाल

नई दिल्ली, 8 मई l श्री गुरु तेगबहादुर जी ने उस समय अपने जीवन का बलिदान ना दिया होता तो आज पूरा भारत इस्लाम में परिवर्तित हो जाता  तथा हमारी प्राचीन संस्कृति एवं सभ्यता समाप्त हो जाती। उनके तथा उनके परिवार के महान बलिदान ने हमारी महान संस्कृति तथा ध..

किसी भी समाज की उन्नति अपनी संस्कृति से जुड़कर ही हो सकती है-डॉ मोहनराव भागवत

''संस्कृति को जानने का सबसे सरल मार्ग कला व साहित्य है और किसी भी समाज की उन्नति अपनी संस्कृति से जुड़कर ही हो सकती है।'' उक्त उद्बोधन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक श्री मोहनराव भागवत ने दिया। वे नई दिल्ली के कमानी ऑडिटोरियम में तीन दिवसीय कला या..

अंजुम आरा ने प्रस्तुत किया संवेदन शीलता का अद्भूत उदाहरण

विद्या भारती के संस्कार ....... "संस्कार बोलते हैं ,और ज्ञान बोलता है  जड़े ज़िनसे सिंचित हुई वो मान बोलता है  ये विद्या भारती की शिक्षा की महक है .... ज़िसके सौरभ से हर छात्र का सोपान बोलता है " पाकिस्तानी बर्बरता के शिकार हुए तरन तारन पंजाब के ..

"सामाजिक समरसता का ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य" विषयक संगोष्ठी का हुआ आयोजन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अवध प्रान्त संपर्क विभाग की योजना से 'सामाजिक समरसता का ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य' विषयक संगोष्ठी  लखनऊ विश्वविद्यालय के मालवीय सभागार में संपन्न हुई। मुख्य अतिथि उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश मा. खेमकरण जी, मुख्य वक्ता रा.स्..

आरोग्य भारती उत्तर क्षेत्र की कार्यशाला संपन्न

आरोग्य भारती उत्तर क्षेत्र की कार्यशाला बीते 9 अप्रैल 2017 को झंडेवाला माता मंदिर करोल बाग नई दिल्ली में आयोजित की गई, इस कार्यशाला में उत्तर भारत के प्रान्तों पंजाब, हिमाचल, हरियाणा, दिल्ली और जम्मू&कश्मीर से 102 प्रतिनिधियों ने भाग लिया। कार्यशाल..

स्वस्थ्य जीवन शैली विषय पर प्रबोधन कार्यक्रम का हुआ आयोजन

आरोग्य भारती अवध प्रान्त के तत्वाधान में किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय, लखनऊ के पी एच आई भवन के सभागार में चिकित्स्कों के लिए स्वस्थ्य जीवन शैली विषय पर प्रबोधन आयोजित किया गया । कार्यक्रम में चिकित्सा महाविद्यालय, आयुर्वेद महाविद्यालय एवं होम्योपैथ..

विहिप ने आंतक समर्थकों पर कार्यवाही के लिए राष्ट्रपति को दिया ज्ञापन

05 मई, शुक्रवार, (विश्व संवाद केंद्र शिमला)। विश्व हिंदु परिषद की युवा विंग बजरंग दल शिमला ईकाई ने आज उपायुक्त शिमला रोहन चंद ठाकुर के माध्यम से राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को जम्मु कश्मीर में भारतीय सेना पर पत्थरबाजों के षडयंत्र के संदर्भ में ज्ञापन सौंपा..

केरल में हो रही हिंसा के खिलाफ गाजियाबाद में विरोध प्रदर्शन

गाजियाबाद (विसंकें). गाजियाबाद के कलैक्ट्रेट पर राष्ट्र जागरण समिति जिला गाजियाबाद द्वारा केरल और पश्चिमी बंगाल में लगातार हो रहे संघ कार्यकर्ताओं पर हमलों के विरोध में विशाल धरने का आयोजन किया गया, जिसमें हज़ारों की संख्या में जनता ने भाग लिया. इस अवसर प..

रामनवमी, दुर्गा पूजा, हनुमान जयंती मनाने पर प्रतिबंध लगाया जा रहा – पद्म सिंह जी

नोएडा (विसंकें). केरल में निरंतर जारी रक्तरंजित वामपंथी हिंसा अमनपसंद और लोकतंत्र में विश्वास रखने वाले राष्ट्रवादी लोगों के लिए चिंता का विषय है. पिछले कुछ वर्षों में केरल में ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं भाजपा के 270 कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है. रा..

छत्तीसगढ़ में माओवाद का मुकाबला कर रहे हैं वनवासी कल्याण आश्रम के एकल विद्यालय |

एकल विद्यालय    विश्व संवाद केंद्र की टीम द्वारा  अगर माओवाद जैसे हिंसक विचारों से निबटना है, तो उसके लिए शिक्षा सबसे प्रभावी उपकरण है । इस लक्ष्य को लेकर राज्य तो अपना काम कर ही रहा है, साथ साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की प्रेरणा से संचालित वनवासी कल्याण आश्रम भी इसमें प्रमुख सहभागी है।छत्तीसगढ़ के बस्तर क्षेत्र का सुकमा जिला माओवादी आतंकवादियों का गढ़ माना जाता है, जहाँ हालिया हमलों में हुई 25 सीआरपीएफ जवानों की मौत ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया और फिर से इस क्षेत्र की ओर लोगों का ..

दिव्यांगों के लिए समाज और व्यवस्था बढ़ाएं: मित्तल

  देहरादून 30 अप्रैल (विसंके)। महात्मा सूरदास ने दिव्यांगता के बावजूद समाज को जो धरोहर दी है वह सदियों तक साहित्य प्रेमियों,अनुरागियों,समाजसेवियों तथा कृष्णभक्तों के लिए अप्रतिम बनी रहेगी। विश्व संवाद केन्द्र में सक्षम संस्था द्वारा महात्मा सूरदास की जयंती का विशेष आयोजन किया गया। इस अवसर पर दिव्यांगों की संस्था सक्षम द्वारा महात्मा सूरदास के व्यक्तित्व एवं कृतित्व की चर्चा की गई। सक्षम के प्रदेश पालक अधिकारी डा. विनोद मित्तल मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता सक्षम के ..

बच्चो हेतु स्वस्थ्य जीवन शैली एवं औषधीय पौधों विषय पर प्रबोधन नागपुर में हुआ आयोजित

आरोग्य भारती विदर्भ प्रान्त द्वारा NIT उद्यान, बापूनगर, नागपुर में बच्चो हेतु स्वस्थ्य जीवन शैली एवं औषधीय पौधों विषय पर प्रबोधन आयोजित किया जिसमे मुख्य वक्ता आरोग्य भारती के राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डॉ रमेश जी गौतम थे, कार्यक्रम में 100 से अधिक बच्चो ने ..

साधना के बिना प्रतिभा का सामर्थ्य असंभव होता है – डॉ. मोहन भागवत जी

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि अपनी प्रतिभा के प्रकाश से जगमगाने वाली प्रतिभाओं की नक्षत्र मालिका को अभिवादन करता हूँ. आज सम्मानित हुई प्रतिभाओं का सम्मान मैं करूँ, ऐसा मेरे पास कुछ भी नहीं है. फिर भी इस ..

60 वर्षों में वामपंथियों ने केरल में सैकड़ों कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्या की – रणवीर जी

देहरादून (विसंकें). केरल में माकपा सरकार के संरक्षण में राष्ट्रवादी कार्यकर्ताओं पर हो रहे खूनी हमले एवं नरसंहार के विरोध में लोक अधिकार मंच देहरादून द्वारा विशाल प्रदर्शन किया गया. जिसमें देहरादून के एसडीम गणेश मर्तोलिया और एसपी सिटी अजय सिंह के माध्यम स..

केरल में संघ के प्रति वामपंथी हिंसा के खिलाफ मेरठ में प्रदर्शन

मेरठ (विसंकें). राष्ट्र जागरण समिति, मेरठ द्वारा कमिश्नरी चौराहे पर वामपंथी हिंसा के विरोध में विशाल प्रदर्शन हुआ. इस अवसर पर संघ विचार परिवार के विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ताओं, स्वयंसेवकों ने भाग लिया. कार्यक्रम को विश्व हिन्दू परिषद्, संस्कृत भारती, रा..

प्रान्तीय महिला कार्यकर्ता प्रबोधन वर्ग संपन्न

भोपाल (विसंकें) l विद्या भारती प्रांतीय कार्यालय, प्रज्ञादीप से जारी विज्ञप्ति में बताया कि भारतीय समाज में महिला सशक्तिकरण की उपयोगिता किस प्रकार से सिध्द हो सकती है? जबकि प्रत्येक महिला का अपना अलग - अलग व्यक्तित्व हैं। उसे समाज और राष्ट्र उत्थान में ..

केरल की हिंसा वामपंथियों की राजनीति का हिस्सा - जे. नंदकुमार

गत कई वर्षों से केरल में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं राष्ट्रवादी विचारधारा के कार्यकर्ताओं की हत्या की जा रही है| इन घटनाओं की पार्श्वभूमि, वैचारिक संघर्ष, राज्य सरकार एवं पुलिस की भूमिका तथा संघ का इ..

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को प्रस्तुत करती चित्रकला प्रदर्शनी का हुआ आयोजन

भोपाल (विसंकें) l श्री कला संस्थान, भोपाल के द्वारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक डॉ केशव बलिराम हेडगेवार जी की जयंती के अवसर पर चित्रकला प्रदर्शनी "धूलिकण" का आयोजन स्वराज कला वीथिका भोपाल में किया गया  प्रदर्शनी के चित्र ..

लोक अधिकार मंच देहरादून द्वारा किया गया पत्रकार वार्ता का आयोजन

(देहरादून विसंके)। आज विश्व संवाद केन्द्र में लोक अधिकार मंच देहरादून द्वारा पत्रकार वार्ता का आयोजन किया गया, जिसका मुख्य उद्देश्य केरल में हो रहे राष्ट्रवादी विचारधारा के लोगों की हत्या वामपंथी शासन की शह पर खुले आम हो रही है। इसके विरोध में सभी राष्ट..

राष्ट्र जागरण समिति ने धरना प्रदर्शन के बाद राष्ट्रपति के नाम का सौपा ज्ञापन

राष्ट्र जागरण समिति के तत्वाधान में जिलाधिकारी कार्यालय पर हुए धरने में राष्ट्रवाद के समर्थक 200 से अधिक कार्यकर्ता सम्मिलित हुए. धरने को सर्व श्री संजय विधूड़ी, मुकेश नागर, चन्द्रवीर नागर, अधिवक्ता किशनलाल पाराशर, डॉ मनोज भाटी, ललित, मूलचन्द् शर्मा, भग..

वामपंथी आतंक के शिकार पीड़ितों की दास्तां नेशनल मीडिया को नहीं भा रही ?

केरल में वामपंथी आतंक के पीड़ितों ने सुनाया अपना दर्द विस्मया, ये नाम अधिकांश ने सुना होगा. उसकी कविता सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थी. वह पुलिस अधिकारी बनकर अपने गांव की सेवा करना चाहती है, लेकिन वामपंथी गुंडों ने उसके पिता की हत्या कर दी. वह कहती है..

वामपंथी इतिहासकारों ने मुसलमानों को गुमराह किया, नहीं तो मुद्दा सुलझ जाता – के.के. मुहम्मद

प्रसिद्ध पुरातत्ववेत्ता और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के पूर्व क्षेत्रीय निदेशक (उत्तर) श्री के.के. मुहम्मद जी 1978 में डॉ. बी.बी. लाल की अगुआई वाली उस टीम के सदस्य थे, जिसने अयोध्या में उत्खनन किया था. श्री मुहम्मद साक्ष्यों के आधार पर पुरजोर तरीके..

राष्ट्र और समाज अपना इतिहास स्वयं लिखता है – विपिनचन्द्र जी

जयपुर (विसंकें). अखिल भारतीय साहित्य परिषद के राजस्थान क्षेत्र संगठन मंत्री विपिन चन्द्र जी ने कहा कि भारत के भूभाग का निर्माण देवाताओं द्वारा किया गया है. इसका प्रमाण हमारे अनेक शास्त्रों में मिलता है, हमारी संस्कृति अति प्राचीन है. वे राजस्थान विश्वविद्..

केरल के कार्यकर्ताओं की पीड़ा हम सबकी पीड़ा है -जयकृष्ण सिन्हा

लोक जागरूक मंच की 'केरल में कम्युनिष्टों द्वारा सरकार के संरक्षण में हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओं पर फैलाई जा रही हिंसा' विषयक गोष्ठी आज विश्व संवाद केंद्र, लखनऊ में संपन्न हुई | कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लखनऊ विभाग सं..

विषम सामाजिक परिस्थितियों को रौंदते हुए हमारे राष्ट्र को सामाजिक समरसता के विचार डॉ अम्बेडकर ने दिए - नन्दलाल जी

पाली 14 अप्रेल २०१७ । शुक्रवार को लाखोटिया उद्यान स्थित माली समाज भवन में डाॅ सुरेन्द्रसिहजी की अध्यक्षता में डाॅ. भीमराव अम्बेडकर जयन्ती समारोह उत्साह व श्रृद्वा के साथ माल्यापर्ण कर मनाया गया।  कार्यक्रम की जानकारी देते हुए संयोजक मुकेश  पो..

अस्पृश्यता को कभी धार्मिक, नैतिक व सामाजिक अनुमति नहीं थी – इंद्रेश कुमार जी

जोधपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार जी ने कहा कि छुआछूत एक गंभीर राष्ट्रीय समस्या है, इसे सामाजिक समरस्ता के माध्यम से ही दूर किया जा सकता है. इंद्रेश कुमार जी राष्ट्रीय जन चेतना न्यास एवं नगर निगम जोधपुर द्वारा बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर की 126वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित जनों को संबोधित कर रहे थे. जोधपुर के टाउन हॉल में बाबा साहेब के जीवन के कई पहलुओं को कार्यक्रम में रेखांकित किया गया. मुख्य वक्ता इंद्रेश कुमार जी ने कहा ..

अनुसूचित जाति का विकास ही देश का विकास है - श्री वि. भागय्या

नई दिल्ली , 14 अप्रैल। अनुसूचित जाति का विकास ही देश का विकास है लेकिन बड़ी संख्या में अनुसूचित जातियों के नेताओं व संगठनों की उपस्थिति के बावजूद उनके विकास के लिए जितना काम होना चाहिए वह नहीं हो पा रहा है।   राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यव..

उत्तराखण्ड आरएसएस ने धूमधाम से मनाई अम्बेडकर जयंती

देहरादून १४ अप्रैल (विसंकें)। राजधानी देहरादून सहित पूरे प्रदेश में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकार्ताओं ने संविधान निर्माता डा. भीमराव अम्बेडकर की १२६वीं जयंती धूमधाम से मनाई। देहरादून स्थित वेंकटेश्वर मन्दिर के निकट शोभा यात्रा में शरबत का वितरण क..

सकारात्मक भाव को जगाना है मीडिया का लक्ष्य-नरेन्द्र कोहली

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के आयोजन में वरिष्ठ पत्रकार उमेश उपाध्याय और विजय मनोहर तिवारी को दिया गया गणेश शंकर विद्यार्थी सम्मान भोपाल, 14 अप्रैल। पत्रकारों का लक्ष्य आजीविका नहीं है, खबरों को प्रसारित करना भी उनका ..

डॉ. अम्बेडकर जीवन पर्यंत समाज के वंचित वर्ग के लिये संघर्ष करते रहे – अजय जी

मेरठ (विसंकें). अजय मित्तल जी ने कहा कि भारत रत्न डॉ. भीमराव अम्बेडकर एक महान व्यक्तित्व थे. एक ऐसा व्यक्तित्व जिसमें समाज सुधारक, राजनीतिज्ञ, कानूनविद्, संविधान विशेषज्ञ, पत्रकार जैसे विविध क्षेत्रों का समावेश था. जीवन पर्यन्त समाज के उपेक्षित, वंचित ल..

संघ ने की घोष वादन से बाबा साहेब की मानवंदना

भोपाल (विसंकें), 14 अप्रैल l बाबा साहब डॉ भीमराव अम्बेडकर जी की जयंती के अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के भोपाल विभाग की घोष इकाई द्वारा आज प्रातः 10.00 बजे बोर्ड ऑफिस चौराहे पर स्थित बाबा साहेब की प्रतिमा का घोषवादन कर मान वंदना की गई l लगभग 100 स्वय..

आरोग्य भारती -महाकौशल प्रांत का अभ्यास वर्ग सम्पन

आरोग्य भारती महाकौशल प्रांत का एक दिवसीय अभ्यास वर्ग जिला सिंगरोली के सूर्य किरण गेस्ट हाउस में संपन्न हुआ जिसमें क्षेत्रीय संगठन मंत्री मध्य भारत मा. भोलानाथ जी, डॉ प्रभाकर चतुर्वेदी (प्रांतीय अध्यक्ष महाकौशल प्रांत), डॉ वीरेंद्र स्वरुप श्रीवास्तव (प्र..

औषधीय वनस्पति राष्ट्रीय ​कार्यशाला पणजी गोवा में सम्पन्न

विसंकें l आरोग्य भारती द्वारा औषधीय वनस्पति प्रचार ​-प्रसार ​​आयाम के ​के अंतर्गत एंटरटेनमेंट सोसाइटी ऑफ़ गोवा परिसर पणजी में ​ 25-26 मार्च 2017 को दो दिवसीय ​राष्ट्रीय ​कार्यशाला-भाग एक सम्पन्न हुई, इस ​कार्यशाला में दक्षिण-पश्च..