देश में संघ कार्य का निरंतर विस्तार हो रहा है – डॉ. मनमोहन वैद्य

देश में संघ कार्य का निरंतर विस्तार हो रहा है – डॉ. मनमोहन वैद्य

भुवनेश्वर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य जी ने कहा कि संघ के स्वयंसेवकों के कठोर परिश्रम एवं सतत प्रयास और समाज की अनुकूलता के कारण संघ कार्य का लगातार विस्तार हो रहा है। विशेष कर युवा व छात्र संघ से जुड रहे हैं। स्थानीय शिक्

जेपी और नानाजीः दूसरी आजादी के योद्धा-जयराम शुक्ल

जेपी और नानाजीः दूसरी आजादी के योद्धा-जयराम शुक्ल

अक्टूबर का महीना बड़े महत्व का है। पावन,मनभावन और आराधन का। भगवान मुहूर्त देखकर ही विभूतियों को धरती पर भेजता है। 2 अक्टूबर को गांधीजी, शास्त्रीजी की जयंती थी। 11अक्टूबर को जयप्रकाश नारायण और नानाजी देशमुख की जयंती है, अगले दिन ही डा.राममनोहर लोहिया का ज

हिन्दू समाज ने राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर की कार्यवाही की मांग

भोपाल - आज भोपाल में राजधानी यादव समाज भोपाल के अध्यक्ष रामस्वरूप यादव, यदुवंशी यादव समाज के अध्यक्ष मुकेश यादव, वाल्मीकि महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित झा समेत विभिन्न समुदायों के अध्यक्षों ने राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर शिवपुरी में वाल्मीकि समाज के

  • आदमी को पहाड़ खाते देखा है -जयराम शुक्ल

    आदमी को पहाड़ खाते देखा है -जयराम शुक्ल

    भोपाल से इंदौर जाते हुए जब देवास बायपास से गुजरता हूँ तो कलेजा हाथ में आ जाता है। बायपास शुरू होते ही बाँए हाथ में हनुमानजी की विराट प्रतिमा है, उसके पीछे खड़े पहाड़ का जो दृश्य है,बेहद दर्दनाक है। उसे देखकर कई भाव उभरते हैं। कि जैसे चमगादड़ ने अमरूद का आधा

    16 Sep 2019

  • नगर सेठ अमरचन्द बांठिया को फांसी

    नगर सेठ अमरचन्द बांठिया को फांसी

    स्वाधीनता समर के अमर सेनानी सेठ अमरचन्द मूलतः बीकानेर (राजस्थान) के निवासी थे। वे अपने पिता श्री अबीर चन्द बाँठिया के साथ व्यापार के लिए ग्वालियर आकर बस गये थे। जैन मत के अनुयायी अमरचन्द जी ने अपने व्यापार में परिश्रम, ईमानदारी एवं सज्जनता के

    22 Jun 2019

  • आखिर साध्वी जी से परहेज़ क्यों है ?- डॉ. नीलम महेंद्र

    आखिर साध्वी जी से परहेज़ क्यों है ?- डॉ. नीलम महेंद्र

    साध्वी का विरोध करने वाले इस तथ्य को भी नजरअंदाज नहीं कर  सकते कि अगर साध्वी प्रज्ञा को अदालत ने आरोप मुक्त नहीं किया है तो इन 8 सालों में वो दोषी भी नहीं सिद्ध हुई। बल्कि ऐसे कोई सुबूत ही नहीं पाए गए जिससे उन पर मकोका लगे जिसके अंतर्गत उनक

    23 Apr 2019

  • जनता की अदालत में फैसला अभी बाकी है

    जनता की अदालत में फैसला अभी बाकी है

    कुछ समय पहले अमेरिका के एक शिखर के बेस बॉल खिलाड़ी जो कि वहाँ के लोगों के दिल में सितारा हैसियत रखते थे, उन पर अपनी पत्नी की हत्या का आरोप लगा। लेकिन परिस्थिति जन्य साक्ष्य के आभाव में वो अदालत से बरी कर दिए गए जबकि जज पूरी तरह आश्वस्त थे कि

    18 Apr 2019

  • देश-द्रोहियों के मताधिकार?

    देश-द्रोहियों के मताधिकार?

    चुनाव नजदीक आते ही विविध राजनैतिक दलों व नेताओं में वाकयुद्ध प्रारम्भ हो जाता है। एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते हुए अनेक बार, शब्दों की सीमाएं, न सिर्फ संसदीय मर्यादाएं बल्कि, सामान्य आचार संहिता का भी उल्लंघन कर जाती हैं। राजनैतिक दलों के सिद्धांतों,..

    17 Apr 2019

E-विचार एवं समन्वय सेवा और संवाद
जागरण पत्रिका